टीचर हो तो ऐसी Kamukta com

प्रेषक : करण …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम करण है, मेरी उम्र 21 साल है, में दिखने में हैंडसम हूँ। मेरी कामुकता डॉट कॉम पर यह पहली स्टोरी है, में कंप्यूटर इंजिनियरिंग का स्टूडेंट हूँ। ये बात मेरे कॉलेज के टाईम की है, यह बात तब की है जब मेरे घरवाले किसी काम से आउट ऑफ स्टेशन गये हुए थे। जब में Ist ईयर की पढाई  कर रहा था, तो हमारी कंप्यूटर की टीचर रचना मेम की ट्रांसफर हो गयी, जिस वजह से एक नई टीचर की ज़रूरत थी। तो उस कॉलेज में टीचर के लिए पोस्टर लग गये, लेकिन मैंने उनकी तरफ ध्यान नहीं दिया और उसके बाद में घर चला गया। फिर शाम को हमारी पड़ोसी रितिका हमारे घर आई और माँ से बातें करने लगे। तो तब उन्होंने बताया कि उन्हें एक जॉब की जरुरत है। तो मैंने झट से उनको बताया कि हमारे कॉलेज में एक टीचर की जरुरत है, बस फिर क्या था? उन्होंने जॉइन कर लिया। एक्च्युयली में भी यही चाहता था, क्योंकि रितिका  उम्र 24 साल, फिगर साईज 36-24-36, मुझे शुरू से ही पसंद थी, उसकी अदाए मुझको पागल कर देती थी, उसके बूब्स बहुत ही सुंदर थे।

फिर लाईफ नॉर्मल गुजरती गयी, अब मेरे पेपर आ चुके था, अब मुझे कंप्यूटर सब्जेक्ट में प्रोब्लम आ रही थी, तो में रितिका के घर पढ़ने चला गया। जब टाईम कुछ शाम के 8 बजे थे तो मैंने डोर बेल बजाई,  तो कुछ देर तक दरवाजा नहीं खुला तो मैंने उसे पुश किया, तो दरवाजा पहले से ही खुला हुआ था, तो में अंदर चला गया। अब मुझे रितिका कही नहीं दिख रही थी, तो मैंने बेडरूम का दरवाजा लॉक किया तो रितिका ने जैसे ही दरवाजा खोला, तो में दंग रह गया, उसने एक पारदर्शी नाइटी पहनी हुई थी। अब मुझे उसके बूब्स साफ-साफ दिखाई दे रहे थे, अब उसके समझ में आ गया था कि में उसे देख रहा हूँ,  तो उसने मुझे हॉल में बैठने को कहा।

फिर कुछ देर के बाद वो आ गयी, तो मैंने उसे अपनी सब्जेक्ट प्रोब्लम बताई तो उसने वो सॉल्व कर दी और फिर में अपने घर चला गया। फिर में उस सारी रात उसके बारे में सोचता रहा। फिर अगले दिन में फिर से उसके घर चला गया, जब टाईम रात के 9 बज रहे थे, उसने सलवार कमीज पहने हुई थी। अब पढ़ते-पढ़ते रात के 10 बज गये थे। फिर उसने मुझे खाने के लिए ऑफर किया। अब में भूखा था क्योंकि मेरे घरवाले आउट ऑफ स्टेशन गये हुए थे तो मैंने हाँ कर दी। अब जब वो खाना बना रही थी, तो मैंने उसको देखा, वो बहुत सेक्सी लग रही थी। फिर में रसोई में गया और उसको पीछे से पकड़ लिया। तो वो एकदम शॉक रह गयी और मुझे मना करने लगी। लेकिन अब मेरा लंड पूरा खड़ा था, अब में कहाँ हटने वाला था? अब में उसके बूब्स जोर-जोर से दबाने लगा था, तो थोड़ी देर के बाद वो भी गर्म होने लगी।

फिर जब मैंने देखा कि वो गर्म हो गयी है, तो में उसे बेडरूम में ले गया और उसके कपड़े उतार दिए।  अब वो मेरे सामने एकदम नंगी खड़ी थी। फिर में जल्दी से उसके ऊपर लपक पड़ा और उसके बूब्स काटने लगा। अब वो कह रही थी और जोर से सीईईईई प्लीज। फिर मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया। अब वो तरह-तरह की आवाजे निकाल रही थी आआआआ, हाईईईईईईईई, आआआअ और जोर से हाआआआअ। फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में घुसेड़ दिया तो उसकी सिसकियाँ निकल गयी। अब में अपना लंड जोर-जोर से आगे पीछे करने लगा था। अब उसे बहुत मज़ा आ रहा था, अब वो भी मेरा साथ दे रही थी। अब वो मुझसे कह रही थी कि धीरे करो, लेकिन में और जोर लगा रहा था। फिर 15 मिनट के बाद मेरा माल उसकी चूत में ही निकल गया। अब वो पूरी तरह से खुश थी। फिर उस दिन के बाद से हमें जब कभी भी कोई मौका मिलता, तो हम खूब सेक्स करते है और खूब इन्जॉय करते है ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *