नागपुर में चुदाई का मजा

प्रेषक : दीपेश …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम दीपेश है, में नागपुर का रहने वाला हूँ। मेरी कामुकता डॉट कॉम पर यह पहली स्टोरी है, अब में आपको मेरे बारे में बताता हूँ। में सामान्य लड़का हूँ, मेरी उम्र 28 साल है। अब में आपको ज्यादा बोर ना करते हुए सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ। मेरे घर के सामने एक कपल रहता था, संगीता और राजेश। संगीता वेरी सेक्सी लेडी थी, में रात को संगीता को चोदने के सपने देखता था, में उन पर मन ही मन मरता था, लेकिन मुझे कोई चान्स नहीं मिल रहा था। फिर एक दिन ऐसा हुआ कि में उनके घर कुछ काम के लिए गया था, लेकिन उनके घर का दरवाजा खुला ही था, तो में उनके घर के अंदर चला गया। फिर संगीता अंदर कपड़े बदल रही थी, तो उसे देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया और मैंने उनको आवाज़ दी। तो थोड़ी देर के बाद वो बाहर आ गयी, तो में उनके घर से बिना कुछ बोले ही बाहर निकल पड़ा।

फिर कुछ दिन के बाद मुझे ऐसा महसूस होने लगा कि वो भी मुसमे इंट्रेस्टेड है, वो रोड़ से जाते वक़्त भी मुझे सेक्सी स्माइल देती थी। उनके पति राजेश कुछ काम की वजह से दिल्ली गये हुए थे और मेरे भी पेरेंट्स कुछ काम के लिए बाहर गये हुए थे। फिर एक दिन में संगीता से मिलने के लिए उनके घर गया, तो वो घर में अकेली थी। फिर उन्होंने मुझे घर में बुलाया और कहा कि राहुल आज तुम्हारे घर में कोई नहीं है तो खाने के लिए तुम आज यहाँ पर आ जाना। फिर रात को खाना खाना के बाद मैंने कहा कि आंटी में घर जाता हूँ। तभी वो मुझसे बोली कि तुम आज यहाँ पर ही सो जाओ, क्योंकि में भी अकेली हूँ, तो मैंने हाँ कर दी। फिर रात को संगीता अपना सारा काम कंप्लीट करके मेरे पास आकर बैठ गयी। तब में टी.वी देख रहा था कि वो आज बहुत ही सेक्सी लग रही थी, उसने पारदर्शी गाउन पहना था, उसमें से उसके बूब्स बाहर आए थे और बड़े मोटे थे।

फिर थोड़ी देर के बाद उसने मुझसे पूछा कि राहुल तुम्हारे कोई गर्लफ्रेंड है क्या? तो मुझे शॉक लगा कि ये मुझसे ऐसा क्यों पूछ रही है? तो मैंने शरमाते हुए कहा कि नहीं है। फिर वो मेरे पास आ गयी और फिर उन्होंने मुझसे हँसते हुए कहा कि तो तुम मुझे बार-बार चुपके से क्यों देखते हो? तो मैंने कहा कि आप बहुत अच्छी दिखती है इसलिए। तो वो बोली कि क्या तुम मुझसे सेक्स करोगे? में जानती हूँ कि तुम मन ही मन मुझ पर मरते हो और फिर वो मुझे ज़ोर से किस करने लगी। फिर मुझसे भी कंट्रोल नहीं हुआ और में भी संगीता को किस करने लगा। फिर वो मुझसे बोली कि मुझे मेरे पति ने संतुष्टी नहीं दी है, तू मेरी चूत को फाड़ डाल और फिर उसने मुझे उसके कपड़े निकालने को कहा और उसने भी मेरे कपड़े निकाल दिए। अब वो तो पूरी नंगी हो गयी थी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर में उसको उठाकर बेडरूम में लेकर गया और उसके पूरे बदन को चाटने लगा। उसकी गांड बहुत ही मोटी और सेक्सी थी। फिर मैंने उसकी चूत चाटी, उसकी चूत बहुत ही क्लीन थी और उससे बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी, अब संगीता को भी बहुत मज़ा आ रहा था। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने उसके रसीले बूब्स को खूब चूसा, फिर मैंने उसको 15 मिनट तक खूब किस किया। फिर वो मुझसे बोली कि मुझे तेरा लंड देखना है। अब मेरा लंड बड़ा हो गया था, तो उसने मेरी अंडरवेयर उतार दी, तो वो मेरा 7 इंच का लंबा लंड देखकर बोली कि तुम्हारा लंड तो उनसे भी बड़ा है, में तो इसे लेकर मर ही जाऊँगी और फिर वो मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी, वो मेरी लाईफ का सबसे खूबसूरत नजारा था। फिर थोड़ी देर के बाद उसने मुझसे अपना लंड चूत में घुसाने को कहा। फिर मैंने जैसे ही अपना लंड उसकी चूत में घुसाया तो वो ज़ोर जोर से चिल्लाने लगी, बस आ एयाया में मर गयी ओह।

फिर भी मैंने अपना लंड ज़ोर से अंदर डाला और अपने लंड को अंदर बाहर करने लगा तो कुछ देर के बाद में अपनी चरम सीमा पर आ गया तो उसने मेरा सारा जूस उसके मुँह में ले लिया। अब संगीता को भी मज़ा आने लगा था। फिर रात के 2 बजे तक मैंने उसकी चूत को खूब चोदा। अब उसकी चूत से खून निकलने लगा था। फिर मैंने उसको 69 पोज़िशन में भी लिया और उसकी जमकर चुदाई की और फिर रात को हम दोनों नंगे ही सो गये। अब संगीता पूरी तरह से संतुष्ट हो गयी थी। फिर मैंने सुबह के 6 बजे भी उसे चोदा और हमने बाथ भी एक साथ ही लिया, उस वक़्त मैंने उसकी गांड को भी चोदा था।  अब मैंने उसके पति के आने तक संगीता को कई बार चोदा था। अब वो उसके पति के साथ दिल्ली में ही रहती है। अब मेरा जब कभी भी दिल्ली जाना होता है तो में उसकी खूब चुदाई करता हूँ और हम दोनों खूब इन्जॉय करते है ।।

धन्यवाद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *