पड़ोसन मा बेटी की चुदाई

हेलो फ्रेंड मैं आज आपनी पहली स्टोरी लिख रहा हू सो कोई ग़लती हो तो सॉरी. मैं सूरत का रहने वाला हू . मेरी उन्र 24 साल की है ओर मेरे लंड का साइज़ 6 है.

मेरा नाम नील है. तो चलो अब मे स्टोरी स्टार्ट करता हू.

मेरे पड़ोस मे एक फॅमिली रहती है, उसमे 3 लोग है अंकल उम्र होगी 45की और आंटी की होगी 42 पर फिगर वेल मेनटेन है, बूब्स और गांद दोनो गोल गोल है और थोड़ी चुब्बी है, ओर वैसे भी चुब्बी आंटी को चोदने का मज़ा ही कुछ और है आंटी का नाम रेखा था.

उसकी बेटी का नाम सिमरन है, उसकी उम्र होगी 20 . वो भी माल लगती थी. सिमरन एक दम सेक्सी थी फिगर कुछ एस्सा होगा 34-32-36 उसकी गांद बहुत बाहर थी ओर देख के ही लंड खड़ा हो जाता था.

मेरा उनके घर आना जाना रहता था क्यूकी वो हमारे पड़ोसी थे.

एक दिन की बात है मेरे मम्मी पापा को आउट ऑफ स्टेशन जाना था, तो मेरे रहने का पड़ोसी के घर बोल दिया. मम्मी ने रेखा आंटी से बात कर लिया था सो मे रात को वाहा रहने वाला था.

रात को मै उसके घर गया करीब 7.30 बजे होगे ओर सिमरन टीवी देख रही थी, तो मै भी टीवी देख ने लगा. फिर रेखा आंटी ने हम दोनो को डिन्नर करने बुलाया. ओर आज अंकल क़िस्सी काम के लिए मुंबई गये थे ओर वो 2 दिन बाद आने वाले थे

मेरे मन मे प्लान बनना शुरू हो गया की केसे आज आंटी को चोदे. रेखा आंटी का घरे 2 बी.एच.के था ओर एक ही टाय्लेट था.

फिर डिन्नर कर के हम तीनो लोग टीवी देखेने लगे ओर बात भी कर रहे है. करीब 10.30 बजे सिमरन को नींद आने लगी तो वो सोने चले गई, फिर मै और रेखा आंटी टीवी देखने लगे ओर बात करने लगे.

आंटी :- तेरी कोई गर्ल फ्रेंड है की नही ??

में :- थी बहुत कॉलेज मे अभी नही है..

आंटी :- क्यू छोड़ दिया?

में :- उसकी शादी हो गई.

आंटी :- ओ तो तुमने क्यू नही की उससे शादी??

में :- वो… मैं… वो… मैंन्न.

आंटी :- बोलो नील मे किसी को नही बता ने वाली प्रॉमिस.

में :- उसको करने मे इंटेरेस्ट नही था तो.

आंटी :- क्या करने मे?

में:- वो सेक्स मे कोई इंटेरेस्ट नही था

आंटी :- अच्छा यह बात है.

में :- हा आंटी.

अब मुझे लाग रहा था की यही अच्छा मौका था लोहा गरम है हथोड़ा मार दु. वैसे तो अच्छी थी आप जैसी पर उसे मज़ा नही आता था सेक्स करने मे और मुझे सेक्स अच्छा लगता है.

आंटी बोली की वैसे भी इस उम्र मे सभी लोग यही सोचते है चोदना.

यह सुनके मुझे लगा की तो आंटी को चोद के ही रहूँगा.

फिर आंटी बोली की मै सोने जा रही हू तुमको भी सोना चाहिए.

मैने बोला की आंटी मुझे अकेले सोने से डर लगता है क्या मे आपके साथ सोने आ सकता हू, इफ़ यू डोंट माइंड.

फिर आंटी ने बोला की कोई बात नही तुम आ जाओ. मै चेंज कर लेती हू तुम 5 मिनिट बाद आना ओके मैने भी ओके बोल दिया.

फिर मे 10 मिनिट के बाद गया, तो आंटी ने ब्लाउस ओर पेटिकोट पहना था. ओर पेटिकोट थोड़ा उपर की ओर आ गया था.

मुझसे अब कंट्रोल नही हो रहा था, फिर मेने कंट्रोल कर के उनके साइड मे सोने लगा. आंटी का बॅक मेरे साइड था और ब्लाउस के अंदर ब्रा नही थी, मुझे वो फील हो रहा था अब मै आंटी के पैर पे पैर टच कर रहा था.

मुझे लगा की आंटी सो गई होगी पर वो जाग रही थी.

फिर टच करते हुए मै पेटिकोट को उपर करने लगा ओर उनके नेक यानी गर्दन पे मूह ले गया ओर गरम सासे छोड़ रहा था.

थोड़ी देर करने के बाद मैने आपना हाथ चुत पर रख दिया. चुत पर थोड़े थोड़े बाल थे चुत एक दम गिल्ली हो चुकी थी.

मैं सब कुछ समझ गया की आंटी क्या चाहती है फिर चुत मे उंगली करने लगा 5 मिनिट मे आंटी जाग गई अभी भी आंटी आँख बंद कर रखी थी

फिर मे उसके बूब्स पर आया ओर ब्लाउस खोलने लगा पर मुझसे नही हो पा रहा था. तो आंटी ने आपना हाथ से ब्लाउस को खोल दिया ओर उसके बूब देख के तो मज़ा आ गया. अब मै उसकी बूब छोटे बच्चे की तरह चुस्सने लगा.

10 मिनिट चुस्सने के बाद आंटी ने मेरे लंड को मसल्ने लगी फिर आंटी ने मेरे शॉर्ट उतार दी ओर लंड को चुस्सने लगी. वो ऐसे चुस्स रही थी की कोई पोर्नस्टार हो मस्त मज़े से चुस्स्सने के बाद मै ओर आंटी 69 की पोज़िशन मे आ गये.

15 मिनिट चूसने के बाद मेरा एक बार पानी निकल गया ओर आंटी का 3 बार हो चुका था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *