blue film ki shooting kahani

 

blue film ki shooting kahani दोस्तों मैं यानि आपका दोस्त राज शर्मा एक और नई कहानी लेकर हाजिर हूँ दोस्तों अभी तक आपने बहुत सारी
कहानियाँ पढ़ी हैं मैंने सोचा अब आप लोगों को ब्लू फ़िल्म की शूटिंग की सैर कराइ जाय इसीलिए मैं ये कहानी
लेकर आपके लिए आप उपस्थित हूँ कहानी कुछ इस तरह है
“मेडम ये राजा हैं”

प्रिया ने राजा को इंट्रोड्यूस किया—–मैने आपसे फोन पर इसी के बारे मे कहा था, मैं इसे आजमा चुकी हूँ.
‘मेडम’ ने राजा को गहरी निगाहो से देखा
“क्या काम करते हो. कहा रहते हो—-फॅमिली मे कौन है तुम्हारे”———मेडम ने स्वालो की झड़ी लगा दी
“चोरी करता हू, छ्होटी मोटी, लूटपाट, छीना छपती भी करता हूँ, धारावी मे रहता हूँ, मेरे अलावा मेरा इस दुनिया मे कोई नही है”—–राजा ने भी एक ही झटके मे मेडम को सच बता दिया
“हमम्म—-प्रिया तुम कहती हो तुमने इसे आजमाया है—-कैसा रहा इसका पर्फॉर्मेन्स—-कितनी देर चोदता हैं—-कितने तरीके आते हैं——क्मेरे के सामने, बाकी लोगो की उपस्थिति मे, चोद पाएगा, या हमारे बाकी हीरो की तरह ये भी—-पोपट गिरा देगा”
“नही मेडम, ये चोदने मे बड़ा एक्सपर्ट हैं, कई तरीक़ो से चोदता हैं, मैं खुद चार बार झाड़ चुकी हू”——प्रिया ने सर्टिफाइड किया, जैसे उसको किसी ने झड़ाना बहुत बड़ी बात थी.
सोफे पर पसरी हुई, अधानंगी,अधेड़ उमर की मेडम ने अपना ग्लास एक ही झटके मे खाली किया, और राजा को और ध्यान से देखती हुई बोली,

“प्रिया क्या तुम्हे गॅरेंटी है, ये पुलिसे मिला हुआ नही हैं?”
“नही मेडम, मैं पूरे एक हफ्ते से इसके पिछे थी, मूज़े पक्का यकीन है”
“सुनो राजा, हम जो करते है गैर क़ानूनी हैं,अगर तुमने कही भी इस बारे मे बात की, तो तुम फिर किसी को नज़र नही आओगे, अगर ग़लती से पकड़े भी गये, तो भी कुच्छ बोलने का नही है, हम तुम्हे बचा लेंगे, तुम समझ रहे हो?”
“हाँ मेडम, अप निसचिंत रहे, मैं भी मुजरिम ही हू, छ्होटा,मोटा, मैं किसी से कुच्छ नही बोलूँगा, किशिभि हालत मे नही,—-मुझे सिर्फ़ पैसो से मतलब है”
“वो तो तुम्हे मिल ही जाएँगे, हर शॉट के 20000 , और हर बार नयी लड़की चोदने को मिलेगी वो अलग———–प्रिया इसका ब्लड टेस्ट करवो, एचआइवी के लिए, फिर इसे स्टूडियो ले जाओ, मैं थोड़ी देर मे वाहा पहुचती हू.

मेडम के अंदर जाते ही राजा ने प्रिया को बाँहो मे भर लिया——-उसके होंठो पर किस करने लगा—–“छ्चोड़ो, छ्चोड़ो मूज़े—–जान ले लोगे क्या—अभी अभी इतना लंबा, चुदाई का सेशन झेल चुकने के बाद अब मुझे बखस दो, पूरा बदन दर्द कर रहा है,—होठ तक दर्द कर रहे है——-स्टूडियो मे चलो. वाहा तुम्हारा कमेरे के सामने ट्राइयल लेना है,——वाहा लड़किया भी होगी—-उन्ही पर लगाओ अपना घोड़ा.
राजा ने प्रिया आज़ाद कर दिया——-“स्साली नखरे दिखा रही है” वो मन ही मन कह रहा था
राजा और प्रिया स्टूडियो पहुचे, वो एक शानदार दोमंज़िल का मकान था मड़ालेंड मे,आसपास्स उचे उचे पेड़ो ने बंगल को ढक दिया था.
गेट पर एक आर्म्ड गार्ड था जो प्रिया को जानता था, उसने गेट खोल दिया और दोनो अंदर चले गये, अंदर ड्रॉयिंग रूम मे कुच्छ लड़किया, कुच्छ औरते बैठी थी, कुछ लोग लाइट, रिफ्लेक्टर्स, कमेरे अड्जस्ट कर रहे थे, शायद शूटिंग की तैय्यरी हो रही थी.

प्रिया ने राजा को एक सोफे पे बिठा दिया और वो अंदर चली गयी, राज ने पूरे कमरे मे नज़रे दौड़नी शुरू की, दो लड़किया थोड़ी डरी सहमी सी थी, तीन औरते काफ़ी खेली खाई मालूम होती थी,चालू टाइप की लगती थी , शायद रंडिया हो, एक कॉलेज स्टूडेंट टाइप की लड़की थी, वो बेहद डरी हुए दिख रही थी. क्या ये सब ब्लू फिल्म मे काम करने आई हैं, राजा सोच रहा था.

तभी बाहर से मेडम आई,सब बातचीत छ्चोड़ कर उठ खड़े हुए. दो हटटेकट्ते मुस्टंडे से लोग मेडम केपास पहुचे.

‘डिसूज़ा—क्या तैय्यरी पूरी होगआई”
“एस मॅम, सब तैय्यर है”
“ये इतनी सारी लड़किया यहा क्या कर रही है”
‘एन्हे काम चाहिए, ये सब कुच्छ करने के लिए तैय्यर है”
“पर एन्हे यहा लाया कौन”
“मॅम हमारे एजींटो ने भेजा है”
मेडम उन पर अपनी परखी नज़र घुमाने लगी, उन्होने उस कॉलेज गर्ल को करीब बुलाया
“क्या नाम है तुम्हारा,उमर कितनी है,अओर करती क्या हो, यहा किसने भेजा”————मेडम ने आदत अनुसार एकदम सवालो की ज़दी लगादी
“मैं आएशा हू,उमर 21 साल,कॉलेज मे पढ़ती हू, मूज़े उस्मान यहा लाया है, अभी वो बाहर गया है, आता ही होगा”——-आएशा ने मुस्तैदी से पूरे सवालो का सही सही जवाब दिया
“मुंबई की हो या कही बाहर से?”
“‘बाहर से हू, एक छ्होटे गाओं से, यहा फ़िल्मो मे किस्मत आज़माने के लिए आई हू, पैसो की तँगिकी वजह से…” आएशा ने पुच्छे गये सवाल के अलावा संभावित सवालो के भी जवाब दिए.
“हूंम्म, ठीक है, थोड़ा और पास आओ”
आएशा और करीब आ गयी, चहरे पर झिझक थी, थोड़ी हया भी.
मेडम ने सीधे उसकी चुचि यो पे हाथ चलाया, दोनो चुचियो को बारी बारी दबाके देखा, आएशा एकदम से हड़बड़ा गयी. वो पिछे हटने लगी, मेडम ने उसकी कमर मे हाथ डाल के अपने एकदम करीब खिछा, इतना की उनकी साँसे एकदुसरे टकराने लगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *