Bhabhi Ki Chudai

college girl ki izzat loot li

college girl ki izzat loot li


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
college girl ki izzat loot li हेलो मेरा नाम कल्पना है. मे आपको मेरे बारे मे बताती हूँ मेरी उमर 24 साल है रंग गोरा और फिगर 34-26-36 है. मे एक प्राइवेट स्कूल मे टीचर हूँ. ये कहानी 2 साल पहले की है जब मे नयी नयी इस स्कूल मे जॉब को लगी थी. तब मेरी बी. एड की पढ़ाई ख़तम हुई थी और मुझे ये नौकरी लगी थी. मैं इस स्कूल मे मेद्स सिखाती हूँ. मे 8थ से लेकर 10थ स्ट्ड के बच्चो को मेद्स सिखाती हूँ. तब एक दो महीने हूए थे मुझे स्कूल को जाय्न करके. मे रोज़ स्कूल बससे आया जाया करती थी बस मे हमेशा हमारे स्कूल के बच्चे रहते थे बस हमेशा स्कूल के टाइम पर जाती थी इसलिए बस हमेशा ही खचाखच भारी रहती थी. मुझे तो हमेशा खड़े रहके जाना पड़ता था. ये बात तब की है जब अगस्त मे हमारे स्कूल का एग्ज़ॅम था और बारिश्के दिन थे.सभी बच्चे हाथ मे बुक लेके पढ़ाई करते थे बस मे भी सब पढ़ाई करते थे. पर इनमे से कुछ बच्चे थे जो पढ़ाई स
blue film ki shooting kahani

blue film ki shooting kahani

antarvasna sex stories, aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, Hindi Sex Stories, indian sex kahani
  blue film ki shooting kahani दोस्तों मैं यानि आपका दोस्त राज शर्मा एक और नई कहानी लेकर हाजिर हूँ दोस्तों अभी तक आपने बहुत सारी कहानियाँ पढ़ी हैं मैंने सोचा अब आप लोगों को ब्लू फ़िल्म की शूटिंग की सैर कराइ जाय इसीलिए मैं ये कहानी लेकर आपके लिए आप उपस्थित हूँ कहानी कुछ इस तरह है “मेडम ये राजा हैं” प्रिया ने राजा को इंट्रोड्यूस किया—–मैने आपसे फोन पर इसी के बारे मे कहा था, मैं इसे आजमा चुकी हूँ. ‘मेडम’ ने राजा को गहरी निगाहो से देखा “क्या काम करते हो. कहा रहते हो—-फॅमिली मे कौन है तुम्हारे”———मेडम ने स्वालो की झड़ी लगा दी “चोरी करता हू, छ्होटी मोटी, लूटपाट, छीना छपती भी करता हूँ, धारावी मे रहता हूँ, मेरे अलावा मेरा इस दुनिया मे कोई नही है”—–राजा ने भी एक ही झटके मे मेडम को सच बता दिया “हमम्म—-प्रिया तुम कहती हो तुमने इसे आजमाया है—-कैसा रहा इसका पर्फॉर्मेन्स—-कितनी देर च
सहेली के पापा से जोरदार चुदाई – 2

सहेली के पापा से जोरदार चुदाई – 2


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
गतान्क से आगे……… saheli ke papa se zordar chudai रीता के चोदु पापा मेरी तनी-तनी कुँवारी चूचियों को देखकर मस्ती से भरे और उनका लंड तनाव लेने लगा. अपनी लड़की की नंगी चूची को एक हाथ से दबाए वह मेरी ओर बड़ी मस्त नज़रो से देख रहे थे. मैं भी उनको अपनी लड़की की नंगी चूची को दबाते हुवे हाथ मे लंड थमाए देखकर बुरी तरह से बेचैन हो गयी थी. वो उसी तरह मेरी दोनो चूचियों को घूरते मेरी कुर्सी के पास आए. कमरे मे बहुत उजाला था इसलिए सब साफ-साफ दिख रहा था. मेरे बदन की झुनझुनी रीता के मुठ्ठी के लंड को देख तेज़ हो गयी. पहले जो सिक्युडा था अब काफ़ी खड़ा हो गया था. मेरे पास आ मुझे देखते हुए रीता से बोले, ” बेटी तुम्हारी पक्की सहेली है?” “हाँ पापा इसी की बात तो आपसे कर रही थी. पापा इसे भी मेरी तरह जवान कर दीजिए ना?” रीता ने बड़े प्यार से अपने पापा के लंड को छ्चोड़ अपना हाथ मेरी चूचियों पर हाथ लगाया
doodh bhare mammo se pyaa

doodh bhare mammo se pyaa

aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, desi se kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, Hindi Sex Stories, Kamukta sex stories
doodh bhare mammo se pyaar रिश्ते मे मेरी बड़ी साली की बेटी देल्ही मे ही रहती है, उसका नाम शीमा, उमर अभी 29 साल , मॅरीड,मदर ऑफ 2/मेल किड्स, हब्बी आ बिज़्नेसमॅन. में अक्सर उसके घर आता-जाता हूँ. यह 5 साल पहले गर्मियों के दिन की घटना है, तब वो 24 की थी. बदन भरा- भरा, गदराया हुआ, लंबाई 5-5″. मम्मे(बूब्स) भारी(हेवी), बड़े-बड़े(लार्ज), गोल-गोल, फेले हुए, नित्तम्भ(चूतड़) कामुक(सेक्सी). कुल बात यह कि वो शरीर से पंजाबी जाटनी लगती है. मेरे सामने ही वो बच्ची से जवान हुई. वो कामुक नहीं है, लेकिन मिलनसार और खुश-मिज़ाज़ है. हम दोनो आपस मे पहले से ही काफ़ी फ्रॅंक है. वो 3-रूम के फ्लॅट मे रहती है. मेने बेल बजाई तो सुबह के 11 बजे थे. शीमा ने दरवाजा खोला “अहहा, रमेश अंकल आप?” वो बहुत खुश हुई मुझे अपने यहाँ देख कर. मुझे हाथ से पकड़ कर सोफा पर बिठा दिया और पानी लेकर आई, “अंकल आज इधर का रुख़ केस
chachi ragini ki chudai incest kahani Hindi Sex Stories

chachi ragini ki chudai incest kahani Hindi Sex Stories


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
chachi ragini ki chudai incest kahani ये तब की बात है जब मेने अपने 18 वे साल में कदम रखा था. मेरे चाचा जो मुझसे सिर्फ़ 8 साल बड़े थे उनकी शादी हो गयी. मेरे दादा दादी ना रहने पर पिताजी ने ही चाचाजी को पल पोस कर बड़ा किया था. चाचा ने पिताजी के साथ कारोबार संभाल लिया था. मेरी चाची रागिनी मुझसे सिर्फ़ 4 साल बड़ी थी. एक बार छुट्टियों में पिताजी ने माताजी के साथ यात्रा पर जाने का मन मना लिया. हम लोगो का कपड़े का व्यापार था. जिसकी वजह से चाचा अक्सर टूर पर जाते रहते थे. मेरी चाची मुझे बहुत पसंद करती थी अक्सर कहती थी कि एक में ही हूँ जिससे वो बात कर सकती है. जब पिताजी यात्रा पर चले गये तो चाची मेरा कुछ ज़्यादा ही ध्यान रखने लगी. वो हर तरह से मेरा ख्याल रखती और मुझे अपनी माताजी की कमी नही खलने देती थी. मुझे भी उसके साथ रहने बहुत ही मज़ा आता था. हम अकस्सर खाली समय में हँसी मज़ाक करते, त
Gao mai Rekha ko Choda Hindi Sex Stories

Gao mai Rekha ko Choda Hindi Sex Stories


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
Village Sex kahani – Gao mai Rekha ko Choda मैं अपने भाई की शादी में गया हुआ था. वहाँ मिली मुझे एक गाओं कि गोरी रेखा. वो लड़की बेहद खूबसूरत थी. मे 24 को मेरे भाय्या की शादी थी. मैं अपने घर से 20 तारीख को ही चले गया. क्योंकि गाओं मे अक्सर लड़कियाँ आसानी से अपना सब कुछ दे देती हैं इसलिए मैने जल्दी जाना ठीक समझा. मैं जिस दिन पहूंचा उसी दिन मेरी नज़र रेखा पर पड़ी और उसने मुझे देख कर स्माइल कर दिया.. मैने जान लिया कि इससे मेरी सेक्स की इच्छा पूरी हो सकती है. जब मैने अपने भाय्या के दोस्तों से पूछा तो उन्होने बताया कि लड़की रंडी है. मैं तो मानो खुशी से उछल गया. मैने उसे पहले दिन ही पटा लिया. और गाओं की गोरी को पटाना कोई मुश्किल बात नही होती. उसी रात मैने उससे भाय्या के घर के आउटहाउस मे बुलाया और सारा इंतज़ाम कर लिया. हमारे घर के आउटहाउस के पास लड़कियों का सौचलय था इसलिए रात को उसको आने जाने
dost ki buwa ki chudai kahani

dost ki buwa ki chudai kahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
dost ki buwa ki chudai or gand mari आज मैं आप लोगों को अपना सच्चा अनुभव बताने जा रहा हूँ। बात आज से लगभग ५ साल पहले की है जब मैं १८ साल का था। स्कूल में शीतकालीन छुट्टियां थी, मैं अपने दोस्त श्यामू की बुआ के घर दुर्ग गया था। बुआ के यहाँ पर कुल थी लोग ही रहते हैं एक बुआ, उनकी सास और श्यामू । बड़े भैया दूसरे शहर में नौकरी करते हैं और उनकी लड़की की शादी हो चुकी है। फूफा जी का देहांत बहुत पहले हो चुका है। अब मुद्दे की बात पर आते हैं। एक रोज मैं सुबह सो कर उठा तो पाया कि श्यामू जिम जा चुके थे और दादी (बुआ की सास) अपने कमरे में थी। श्यामू और बुआ के कमरे के बीच एक खिड़की है जो कि ठीक से बंद नहीं थी। अचानक मेरी नज़र बुआ के कमरे में गई तो देखा कि बुआ बाथरूम से नहाकर आ रही हैं। उस समय बुआ ने केवल गाउन पहना था और आते ही अपना गाउन उतार दिया क्योंकि उन्हें स्कूल जाने की जल्दी थी। बुआ स्कूल टीचर है
pados ki aunty ke sath sex chudai

pados ki aunty ke sath sex chudai


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
pados ki aunty ke sath sex chudai यह जो कहानी लिखने जा रहा हूँ वो कल की ही बात है। मेरे पड़ोस में एक आंटी रहती है उनकी कहानी है। मुझे यह आंटी बहुत अच्छी लगती थी। क्या मौसी ल था। उनकी फ़ीगर 38-30-38 है। चूतड़ो का पूछो मत, मोटी मोटी जांघे मोटे मोटे बड़े-2 चूतड़ ! जब जब वो चलती थी तो उनके बड़े-2 चूतड़ हिलती रहती। जब जब मैं आंटी के बड़े-2 चूतड़ो को देखता मेरा सात इन्च लम्बा तीन इन्च मोटा लण्ड जोश में आ कर तन जाता था। आंटी बहुत ही सेक्सी थी। बेचारी आंटी अंकल के काम की वजह से मस्ती भी नहीं करती थी। उसके पति आर्मी ओफ़िसर थे, अक्सर बाहर ही रहते थे। एक दिन मैं उनके घर गया, सोनिया आंटी अकेली थी। मैंने आंटी से पूछा कि सब लोग कहाँ है? आंटी ने जवाब दिया कि अंकल का तो तुमको पता ही है और सभी बच्चे मामा के घर गये हैं। आज रात को नहीं आयेंगे। फिर मैंने आंटी को कहा- ओके आंटी, मैं चलता हूँ। आंटी
shadi mai saali ki chudai kahani

shadi mai saali ki chudai kahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
shadi mai saali ki chudai kahani मेरा नाम विजय है । मैं 35 साल का नौजवान हूँ। सुन्दर लड़की को देखकर मेरा लण्ड खड़ा होने लगता है और बेकाबू हो जाता है । चोदने की ईच्छा तीव्र हो जाती है। मन करता है कि उसके नर्म नर्म गालों को छू लूँ और उसके होठों को चूम लूँ। उसे अपनी बाहों में भरकर उसकी चूचियों को दबा दूँ और अपना लण्ड उसके बुर में डालकर चोद डालूँ। सर्दियों के दिन थे और शादी का माहौल था। मेरे तीसरे छोटे साले की शादी थी और हमलोग ससुराल में इके हुए। काफी लोग होने की वजह से हर कमरे में कई लोगों के सोने का इन्तजाम था। मेरी सलहज यानि पहले साले की बीवी का नाम था सरला। गेहुआँ रगं भरा हुआ बदन 34 26 34 के आकंड़ों जैसा गदराया बदन थिरकती बड़ी बड़ी चूचियां मोटी मोटी केले के तने जैसी जांघें और गज़ब की सुन्दर। इच्छा करती कि दबोच कर बस चबा ही डालूँ। इठलाती हुई जब चलती अपनी साड़ी को सामने हाथ से चूत के पा
raj or radha ki chudai story

raj or radha ki chudai story


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
  raj or radha ki chudai story दोनो अंधेरे में अपने बंगले के बेसमेंट की सीढ़ियाँ उत्तर रहे थे, उसने अपने हाथ मे एक मोमबत्ती पकड़ रखी थी और उसके पीछे राधा चली आ रही थी. “माना तुम्हारी बेहन काफ़ी सुंदर है पर तुम दोनो जुड़वाँ बहने ज़्यादा लगती हो. तुम मुझे भी पसंद आती हो.” जय ने धीरे से कहा.“सच!” वो जोरों से हंस दी, “और में क्यों तुम्हे पसंद आती हूँ?” “वो जब बिस्तर पर पीठ के बल लेटी होती है तो उसका बदन मे वो आकर्षण नही होता.” उसने थोड़ी हिम्मत के साथ कहा. “ये तुमने कैसे सोच लिया कि मेरे बदन मे वो आकर्षण होगा?” “यही तो हमारी बात चीत का विषय है. अगर मुझे यकीन ना होता तो इतने खुले शब्दों मे थोड़ी तुम्हे कहता. तुम्हारे अंग अंग मे एक नशा भरा है, और मुझे इस बात की भी परवाह नही है अगर तुम मेरी बात सुनकर मुझे थप्पड़ मार दो.” उसने अपने शरीर मे थोड़ी गर्मी महसूस की और उसकी चूत भी गीली ह