chudai

Naukrani Ko Apne Lund Par Bithaya

Naukrani Ko Apne Lund Par Bithaya


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
naukarai ki chudai ki kahani साहिल बेटा उठो लक्ष्मी ने आवाज़ दी. मैं पेट के बल सोया था हाआआन्ं मैने नींद में कहाँ, सुबह सुबह मेरा लंड खड़ा था लक्ष्मी ने चादर खीची मैंने झट से तकिया लिया और अपने लंड पर रख दिया वो हासणे लगी. क्यू हसी तुम कुछ नही उसने कहा मैं नहाने चला गया मेरा लॉडा तना हुआ था मैने अभी तक चुत नही चोदि थी मेरे दोस्तों मे से कुछ अपनी काम वाली बाई को चोदा था जो कमसिन कम उमर की थी पर लक्ष्मी मेरे मा की उमर की थी मुझे बचपन मे नहलाया था. आदिल घर पे आया और बेड पर बैठ गया लक्ष्मी ने हिं दोनो को चाय और बिस्कट दी और चली गयी आदिल उसे जाते उसकी गॅंड देखने लगा, वो मेरा कॉलेज का फ्रेंड था, क्या देख रहा है, मस्त गॅंड है. साले तेरी कमसिन कंवली नही है लक्ष्मी है तेरी मा की उमर की है, पर माल है यार, कमसे कम कॉंडम नही लगा ना होगा, कुत्ता है तू, अब पचपन की है पेट से नही होगी और मेर
Padosan Shobha Ki Seal Todi

Padosan Shobha Ki Seal Todi


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मेरा नाम रेहान है और मैं स्लिम बॉडी का हू, ये मेरी ट्रू सेक्स स्टोरी हैं जो मेरे साथ 2 वीक पहले ही हुई है, अब बोर ना करते हुए सीधा सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी पे आता हू. मेरी सोसाइटी मे 3 मकान छोड़ के एक फॅमिली रहती है उनकी एक लड़की है जो मुझसे छोटी है. ये उस दिन की बात है जब मेरे अम्मी अब्बू किसी रिश्तेदार की शादी मे गये थे 2 दीनो के लिए, मैं छत पे वॉक कर रहा था की तभी शोभा(नेम चेंज्ड) उसकी छत पे आई. उसे देख लग रहा था वो अभी ही नहा कर आई है. उसके बाल गीले थे और टॉप भी गीला था थोड़ा, शोभा के बारे मे बता दू उसकी एज 18 के आसपास होगी बट फिगर 32-28-30 होगा, उसकी चुचि का शेप क्लियर नज़र आ रहा था, उसने मेरी तरफ देखा तो मैने स्माइल दे दी, वो भी स्माइल करके नीचे चली गई. मैं भी नीचे आकर नहाने चला गया, जब नहा के निकला तो इतने मे डोर बेल भी. मैं टोलिया मे ही डोर खोल दिया सामने शोभा थी
Job Se Mili Bhabhi ki chudai

Job Se Mili Bhabhi ki chudai


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
  हाय फ्रेंड्स मेरा नाम राजेश (नेम चेंज्ड) है, मेरा सभी चुत वालीयो और लंड वालो को नमस्कार, मैं गोआ का रहने वाला हू, मेरे लंड का साइज़ 9 इंच है, मेरी एज 25 है और मैं एक इन्षुरेन्स कंपनी मे काम करता हू. जुलाइ 2015 मंथ की बात है मुझे एक कस्टमर मिल गयी उसका नाम कविता है (नेम चेंज्ड) वो एक पंजाबी थी. सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी उसका घर मेरे घर से लगबग 2 किमी के दूरी पर था, उसकी एज 35 होगी और उसका फिगर 36-30-34 है, वो यहा अकेले रहती थी उसके पति पंजाब मे थे और साल मे एक बार ही आते थे या वो साल मे एक बार ही जाती थी. अब आपको और बोर ना करते हुए स्टोरी . हू, मेरे एक दोस्त ने मुझे उसका वेहिकल इन्षुरेन्स करने के लिए फोन किया और उसका नंबर दिया, फिर मैने उसको फोन किया और उसे मिलकर प्रीमियम बताया और उसकी पॉलिसी बनाई और मैं चला गया. कुछ दीनो बाद उसका फोन आया की उसकी गाड़ी डॅमेज हो गयी है
Nadi Kinare Chut Pukare

Nadi Kinare Chut Pukare


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हाय फ्रेंड्स मेरा नाम चंदन है ये कहानी तब की है जब 20 साल का था, मे का महीना मैं हमेशा गाओं जाता था उस बार जब गाओं गया तो घर पे कोई नही था सिर्फ़ दादा दादी घर पे थे और कोई नही था मुझे बोर लग रहा था गर्मी बहुत था. हिन्दी सेक्स स्टोरीस हमारे गाओं मे एक नदी है जिसमे हमेशा पानी भरा हुआ रहता था वाहा एक बड़ा सा पेड़ था जिसके वजह से उस जगा बैठने मे मज़ा आता था. मैने 12 बजे वाहा जाने का प्लॅन बनाया वाहा जाके बैठा था की एक औरत वाहा आई जिसका उमर कुछ 40 के बीच मे होगी उसने शायद पेटिकोट नही पहना और ब्लाउस बिल्कुल नही पहना था उनका बूब्स साफ पता चलता और वो जब चलरहिति बूब्स हिल रहेते वो कुछ बर्तन लेके आई थीसाफ करने के लिए. वो मुझे देख के थोड़ा हसके पूछी कौन हो तुम और किसके घर आए हो मैने कहा मैं बद्री मेरा दादा जी है और मेरा नाम चंदन है तो वो बोले अछा और बर्तन नदी के कीनारे रख दिया और थोड़ा आगे
Meri Aur Aunty Ki Sex Kahani

Meri Aur Aunty Ki Sex Kahani

aunty, aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, chudakkad, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, Hindi Sex Stories, house wife, indian sex story, padosan
ये करीब 1 साल पहले की बात है जब मैं गुवाहाटी, (आसाम) गया था मेरे रिलेटिव्स के घर वाहा पड़ोस मे एक आंटी रहती थी फ्लॅट पे वो हमेशा मेरे रिलेटिव्स के घर आती रहती थी क्यू की वो ज़्यादा टाइम अकेली ही रहती थी घर पे इसीलिए और वो हमेशा मुस्कुराते रहती थी, जब मैं वाहा गया तो शाम का वक़्त था और वो आई थी तब मैने उसे फर्स्ट टाइम देखा ब्लू साड़ी मे वो क्या सेक्सी लग रही थी, उसका पेट देख कर मैं तो पूरा खुश हो गया, क्या फिगर था 38-26-38, क्या अदा थी और क्या प्यारा सा चेहरा था. मुस्कुराते हुए मुझसे बाते किया, बोहुत अछा लगा, फिर थोड़ी देर बाद वो चली गयी, मैं भी खाना खा कर सो गया, अगले दिन वो फिर आई और मुझसे बाते करने लगी. फिर उसने मुझे ऐसे बुलाया की मेरे घर भी आइएगा, और मैं जब बाहर जा रहा था तब वो भी अपने घर जाने को निकली तब हम दोनो बाते करते हुए गेट के बाहर निकले और उसने मुझसे कहा की चलिए मेरे
Cousin Sister Ki Randi Saheli

Cousin Sister Ki Randi Saheli


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
  हाय मैं चंदन आपने तो मेरी इंडियन सेक्स स्टोरीस “कज़िन सिस्टर ने जन्नत सैर करवाई” पढ़ी होगी ये 2न्ड पार्ट है. जब मालती और उसकी सहेली मज़ाक कर के चले गये तो मैं उठ के बाथरूम मे ब्रश कर रहा था अचानक मुझे रात का सारी बात याद आ गयी और मेरा लंड खड़ा होने लगा क्या करू कुछ समझ मे नही आ रहा था. मैने देखा की बाथरूम मे मालती का पैंटी और ब्रा रखा हुआ है साफ करने के लिए मैने उसका पैंटी को सूंघने लगा मस्त स्मेल आ रहा था मेरा लंड एकदम खड़ा हो गया और मैं मूठ मारने लगा. 10 मिनट मूठ मारने के बाद मेरा निकल ने ही वाला था की बुआ ने बाथरूम का डोर खोल दिया मैं इतना पागल था की डोर अंदर से क्लोज़ करना भूल गया था इधर बुआ डोर खोली उधर मेरा माल निकल गया वो कुछ सेकेंड के लिए देख रही थी और झट से डोर क्लोज़ कर दिया मुझे बुरा लग रहा था फिर मैने अपना काम करके बाहर आया. तो बुआ बोली क्या हो रहा था अंदर
Kaise Maine Ek Nurse Ko Choda

Kaise Maine Ek Nurse Ko Choda

aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, Hindi Sex Stories, Hindi Sex Story, hospital, nurse
हेलो दोस्तो! कैसे हो आप सब? लेट सही लेकिन मैं रिकी फिर हाज़िर हू अपनी नयी हिन्दी सेक्स स्टोरी के साथ.. एंड मेरी पिछली कहानी पढ़ के आप सबने मुझे बहोत मैल सेंड किए, उम्मीद करता हू आप सब को ये कहानी भी पसंद आएगी. सो जैसा आप सब जानते है मेरा नाम रिकी है मैं बरेलिका रहने वाला हू मेरे लॅंड का साइज़ 7.5” है, ज़्यादा वक़्त बर्बाद ना करते हुए मैं अपनी स्टोरी पे आता हू. हाली मे ही मेरा एक बाइक आक्सिडेंट हुआ था तो डॉक्टर ने मुझे आराम करने को कहा है. मुझे चलने को मना किया गया है ताकि मैं जल्दी सही हो जाउ एंड मेरे लिए एक नर्स अपायंट की गयी है जिसका नाम मोनिका है जो की बहोत खूबसूरत है पतली कमर लंबे काले बाल ब्राउन आइज़ पूरी फॉरिनर लगती है. और उसके वो बूब्स,, आह हा नर्स कम पॉर्नस्टार ज़्यादा लगती थी, न्यू न्यू असाइन हुई थी उसकी एह अराउंड 25 ईयर थी. सो वो दिनभर हमारे घर मे मेरे रूम मे
girlfriend ki pahli chudai

girlfriend ki pahli chudai


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हाय, मेरा नाम राज है (नेम चेंज्ड), मैं 24 साल का हू हाइट 5.5 है और दिखने मे हॅंडसम हू, मेरा लंड 6 इंच का है, प्रोफेशनली आंड्राय्ड डेवलपर हू, ये हिन्दी सेक्स स्टोरीस मेरी और मेरी गर्लफ्रेंड की है जिसका नाम नेहा है और दिखने मे बोहोत मस्त है जो भी देखे बस उसे चोदने की सोचे ऐसी. अब आता हू मैं स्टोरी पे तो बात 4 साल पहले की है जब मैं बीसीए 1स्ट ईयर मे था और क्लास मे सबसे मेरी अछि बनती थी ज़्यादातर गर्ल्स से, सारे क्लास के बोइझ मुझसे जलते थे सभी गर्ल्स से मैं बिंदास मस्ती करता था, सभी मे से मेरी एक फ्रिनेड थी जिससे मेरी ज़्यादा बात होती थी और उसका नाम नेहा था अब उसकी शादी हो चुकी है. वो दिखने मे बोहोत खूबसूरत है और सेक्सी भी, हाइट मेरे बराबर थी उसकी और बूब्स 34 के और गॅंड तो क्या काहु दोस्तो 36 की देखते ही बस मन करता था अभी चोद दू उसको, हम डेली कॉलेज से घर जाने के बाद भी लेट नाइट तक चॅट
rajkot ki bhabhi ki hot chudai

rajkot ki bhabhi ki hot chudai


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हेलो, एवेरिवन आज मैं अपनी एक और रियल इंडियन सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हू, मेरी पिछली स्टोरी के काफ़ी मेल्स आए थे मुझे और उसकी वजह से ही यह और एक घटना मेरी लाइफ मे बनी. तो अब कहानी पे आता हू, मेरा नाम सागर है और मैं राजकोट(गुजरात) का रहने वाला हू, मेरी उम्र 26 साल है और मेरी बॉडी काफ़ी अछी तरह से बिल्ट है. ये 2 हफ्ते पहले की बात है, मुझे एक भाभी का मैल आया और बताया की, आपकी स्टोरी मैने पढ़ी है और मैं आपसे मिलना चाहती हू, हमने कॉंटॅक्ट्स एक्सचेंज किए और एक दूसरे के साथ बात करने लगे, उसकी आवाज़ क्या कमाल की थी, उसने उसका नाम, जिज्ञा बताया, और उसकी उमर 30 ईयर बताई, उसका पति एक बड़ा बिज़्नेसमॅन था और वो मोस्ट्ली आउट ऑफ स्टेशन ही रहता था, जिसकी वजह से वो, काफ़ी अनसॅटिस्फाइड थी. हमरी बाते अभी आगे बढ़ने लगी और धीरे धीरे हम सेक्स चॅट भी करने लगे, वो बहुत जल्दी गरम हो जाती थी और लगता था इ
Karan Chacha Ne Sikhaya Sex Gyan

Karan Chacha Ne Sikhaya Sex Gyan


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
करन चाचा आज दो साल बाद आने वाले थे पूरे तीन महीने के लिए, पिछली बार जब आए थे तो मुझे खूब घुमाने ले जाते एक दिन बस मैं सीट नही थी तो मुझे गोद मैं बैठा दिया उस वक्त वो उन्नीस साल के थे थोड़ी देर बाद अचानक मुझे मेरी गॅंड पर कोई लोहे जैसी चीज़ लगी. मैं समझ नही पाई जैसे जैसी बस चलती करन चाचा हल्के हल्के हिलते उस दिन के बदसे जब भी मौका मिलता मुझे गोद में बिठाते फिर आहिस्ता आहिस्ता मुझे अपने हाथों सी नीचे की और दबाते या मुझे नीचे से धक्का मरते रात को सोते वक़्त मुझपर सो जाते और फिर उसी तरह मुझपर हिलते और कुछ देर बाद थककर सो जाते.उनके जाने तक रोज़ यही खेल होता मैने इस खेल के बारे मे मेरी फ्रेंड रानी को बताया उसने बताया की उसके बड़े भैया भी उसके साथ यही खेल खेलते हैं पर उसके भाई अपनि पैंट उतार कर खेलते है उनके टाँगो के बीच कुछ मोटा सा चीज़ है उसके आस पास बहोत बाल है कभी कभी वो उसका मूह खोलकर उ