chudai

सहेली के बाय्फ्रेंड ने रंडी बनाया

सहेली के बाय्फ्रेंड ने रंडी बनाया


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मेरा नाम पिंकी है और मैं आप सबको अपनी एक और सच्ची कहानी बताने जा रही हू कैसे मेरी सहेली के बॉयफ्रेंड ने मुझे रंडी बनाया ये मेरी सच्ची कहानी है.. और मैं आप सबको अपने बारे मे बता दू मैं दिल्ली मे जॉब करती हूँ और मेरा फिगर 36-30-38 है मेरी एक सहेली है वो हमेशा अपने बॉयफ्रेंड को चेंज करती रहती है मेरा मतलब उसको नये नये बॉयफ्रेंड बनाना बहुत अच्छा लगता है. उसके लिए ब्रेकप करना बहुत नोर्मल बात है. वो हमेशा मेरे घर आती है और कभी-कभी मैं भी उसके घर चली जाती हूँ. मैं और मेरी सहेली जब भी एक दूसरे से मिलते है एक दूसरे के बॉयफ्रेंड के बारे मे बाते करते है और एक दूसरे की चुदाई के बारे मे बाते करते है. एक दिन मैं अपने बेडरूम मे मूवी देख रही थी तभी डोर बेल बजी और मैं देखी की मेरी सहेली आई है और मैं उसको देख बहुत खुश हुई और मैं उसको अपने बेडरूम मे ले गयी और हम दोनो मूवी देखने लगे. मैं अपने घर
वर्जिन मेडम की चोदी चूत

वर्जिन मेडम की चोदी चूत


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मैं एक 21 साल का सख़्त लौंडा हू. मेरे लंड की लंबाई 6. 5 इंच है और मोटाई 3 इंच. ये थी मेरी बात. अब आते हैं कहानी पर, पढ़ के अगर लड़के अपना मूठ ना मारे और लड़की अपनी चूत मे उंगली ना करे तो मुझे कमैंट्स मे ज़रूर बताना… दोस्तों बात क्लास 12वी की है जब मुझे इतना तो पता था की लंड खड़ा होता है लेकिन ये नही पता था की लड़की की चूत मे जाने के लिए होता है. अब बात आई दोस्तों से पता चला की बीफ जीफ चुदाई की बातें करते हैं तभी पता चला और मानो मेरे शरीर मे आग लग गयी हो किसी को चोदने की पर चोदु किसको अपनी तो कोई जीफ ही नही. मैं पढ़ने मे ठीक ठाक था और हिन्दी मे बहुत स्ट्रांग था और हिन्दी हम लोगो को नीता मेडम पढ़ाती थी जो कुवारी थी और 23-24 साल की होगी. और उनका फिगर 34-28-30 होगा. वो अक्सर सूट पहन कर आया करती थी और बहुत सांत नेचर की थी. गर्मी की छुट्टी का टाइम था स्कूल मे. हिन्दी का सिलेबस तोड़ा पीछे
साइबर केफे मे रंडी की चुदाई

साइबर केफे मे रंडी की चुदाई


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हाय, मेरा नाम प्रवीण है और मैं भोपाल मे रहता हूँ न्यू मार्केट के पास तो अब तक की स्टोरीस का रेस्पॉन्स थोड़ा धीमा था लड़किया पता नही क्यो डरती है या झीजाकती है मैल ही नही करती प्लीज़ मैल कीजिए, तो मैं अब अपने बारे मे बता देता हूँ मैं सावला हूँ आवरेज बिल्ड बॉडी हाइट भी ठीक है और शायद थोड़ा हॅंडसम भी दिखता हूँ जैसा लड़कियाँ कहती है, तो अब मैं स्टार्ट करता हूँ तो ये कहानी एक रंडी लड़की और मेरी चुदाई की है जो मुझे एक नेट क्याफे मे मिली थी तो कहानी कुछ ऐसी है की एक दिन मैं एक नेट क्याफे मे पीसी ठीक कर रहा था पॉकेट मनी के लिए, तो वाहा मेरे सामने एक लड़की बैठी थी मैं आछे से उसे देख नही पा रहा था तो मैं थोड़ा उठ के समान लेने गया तो वो दिखी बहुत सेक्सी थी सावली थी वो और उसका फिगर बहुत प्यारा था, दिखने मे इतनी खास नही थी पर बस देख के चोदने का मन कर रहा था और उसने बहुत छोटा टॉप पहना था और जींस पहनी थी
टीचर आंटी को जाम कर चोदा

टीचर आंटी को जाम कर चोदा


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हाय, मेरा नाम सॅम है और मैं चंडीगर मे रहता हूँ और ये जो कहानी मैं आप लोगो को बताने जा रहा हूँ वो 3 साल पुरानी है, तब मैं 12थ मे था और मेरी उमर उस वक्त 18 साल थी और अब मैं बी.टेक कर रहा हूँ, मैं चंडीगर मे अपने पेरेंट्स के साथ रहता था और मैं साइन्स मे थोड़ा वीक था और ख़ास करके बायलॉजी मे पर हमारे पड़ोस मे एक फॅमिली रहती थी जिसमे अंकल, आंटी और उनका 8 साल का बेटा था और आंटी साइन्स की टीचर रह चुकी थी पर अब अंकल उन्हे जॉब नही करने देते थे जिस वजा से उनकी लड़ाई होती रहती थी, तो मेरी मॉम ने मुझे गर्मियों की छुट्टियों मे उनके पास पढ़ने के लिए भेजना शुरू किया, उन्हे अभी शिफ्ट किए कुछ महीने ही हुए थे और आंटी घर से ज़्यादा बाहर भी नही निकलती थी तो मैने आंटी को कभी ध्यान से नही देखा था, मैने पहले उनके पास ट्यूशन जाने के लिए मना किया पर मॉम के इन्सिस्ट करने पर मैं मान गया और मैं पहले दिन उनके घर गया.
मा को नया लॅंड मिला

मा को नया लॅंड मिला


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हेलो दोस्तो, मेरा नाम प्रीतम चव्हान है और ये स्टोरी मे मेरी मा की है जो एक दम सीधी-साधी थी पर आप सब को पता है जब किसी औरत को नये लॅंड का पानी लगता है तो वो रंडी बन जाती है और कुछ ऐसा ही मेरी मा के साथ हुआ, मेरी मा देखने मे ज़्यादा खूबसूरत तो नही पर देखने मे ठीक कोई उसको मज़े से चोद सके इतनी अछी है और फिगर 36,30,44 का है, ये मैने मेझर तो नही किया पर आइडिया ज़रूर लगा सकता हूँ की इतना फिगर होगा, तो मैं स्टोरी पे आता हूँ हमारे कॉंप्लेक्स का प्रोफेसर मेरी मा पे बहुत गंदी नज़र रखता था और मेरी मा को अकेले मे बुलाता था, ये मुझे तब पता चला जब मेरी मा अपनी सहेली को बता रही की प्रोफेसर अकेले मे मिलने को बुलाता है और मा ने मेरे पापा से भी कहा पर पापा ने ज़्यादा ध्यान नही दिया, मुझे भी लगता था की प्रोफेसर कभी मेरी मा को चोद नही पाएगा और हमारे 2 घर है एक बार कुछ रेंट वालो ने लफडा कर दिया तो मा पोलीस स्ट
चोर पोलीस का खेल चुदाई मे बदला

चोर पोलीस का खेल चुदाई मे बदला


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हेलो दोस्तो, मेरा नाम राहुल है और मैं लकनव मे रहता हूँ और मैं डीके का रेग्युलर रीडर हूँ और मुझे इसमे इन्सेस्ट की कहानियाँ पढ़ने मे बहुत मज़ा आता है, वेल आज मैं आपको अपनी लाइफ की रियल स्टोरी सुनाना चाहता हूँ और ये एक दम सच्ची स्टोरी है इस लिए प्लीज़ आप सब इसे अपने साथ भी इमॅजिन कर सकते है, चलिए अब मैं अपनी स्टोरी स्टार्ट करता हूँ, अभी मेरी उमर 28 है पर ये बात तब की है जब मैं 20 साल का था और मैं अपनी फॅमिली यानी की पापा और मॉम के साथ अपनी बुआ जी के घर कानपुर गया था, मेरी बुआ जी की एक ही लड़की (नेहा) है उस समय उसकी उमर 18 साल की थी और हम दोनो की अछी दोस्ती भी थी, एक दिन सब लोग मार्केट गये थे और हम दोनो अकेले ही घर पे रुक गये थे क्योकि बाहर बहुत धूप थी और मम्मी और बुआ जी के साथ मार्केट जाने का हम दोनो का ही मन नही था इसीलिए हम दोनो ने ही मना कर दिया की इतनी धूप मे हम नही जाएँगे. खैर दोपहर
ट्रिप का मज़ा विथ वोड्का

ट्रिप का मज़ा विथ वोड्का


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हेलो दोस्तो मैं अरिश राज आज आपको अपनी न्यू स्टोरी सुनाता हू जोकि मेरे साथ अभी अभी हुई है हुआ यू की अपने ऑफीस के काम से दूसरे सिटी जा रहा था जोकि तीन घंटे की दूरी पे है तो मैने मॉर्निंग मे 6एम की बस ली अभी ठंड का मौसम है तो बस मे ज़्यादा भीड़ नही थी और मैं एक खाली सीट देख कर बैठ गया थोड़ी देर बाद मुझे नींद आ गयी मैं सो गया बस चल पड़ी थी, थोड़ी देर के बाद धूप निकली और मेरे विंडो साइड से धूप आने लगी जिससे मुझे काफ़ी अछा लग रहा था और मैं मज़े मे सो रहा था कुछ देर के बाद मुझे किसी ने क्नॉक किया तो मैं जगा एक मस्त भाभी जी सारी पहने और समान लिए खड़ी थी बोली क्या मैं आपके साथ बैठ सकती हूँ तो मैने बोला काफ़ी सीट खाली है कही भी बैठ जाओ तो बोली इस तरफ से धूप आ रही है क्या मैं आपके साथ बैठ जाउ प्लीज़, मैं थोड़ा साइड हो गया और वो बैठ गयी एंड थॅंक्स बोला मैने बोला इट्स ओके मुझे भी ठंड लग रही थी अब आप आ
वियाग्रा पिल्स देकर चुदाई की

वियाग्रा पिल्स देकर चुदाई की


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हेलो फ्रेंड्स, मेरा नाम एस. के. यादव है और मैं पहले भी “अपनी अकाउंटेंट की अनवॉंटेड चुदाई” स्टोरी सब्मिट कर चुका हूँ और अब एक काफ़ी अरसे के बाद फिर एक बार और एक नई घटना आप सभी के साथ शेर करना चाहता हूँ जो की बहुत ही इंटरेस्टिंग है और आप सभी का मूड फुल ऑफ एग्ज़ाइट्मेंट कर देगी ये मेरा चॅलेंज है, ज़्यादा समय ना लेते हुए अब मैं सीधे स्टोरी पे आता हूँ, जैसा की आपको पहले भी बताया था की मैं कुछ बीझणस मे डील करता हूँ जिसकी वजह से मैं राजस्थान, यूपी, एम.पी, देल्ही और हरयाणा आता जाता रहता हूँ और आप मुझे अपने फीडबॅक्स देना ना भूले मेरी मैल आईडी है “[email protected]”, एक दिन नवेंबर 21, 2014 को मैं देल्ही से अपनी कार से अपने घर की और वापस जा रहा था और शाम के करीब 7 बज चुके थे और थोड़ा-थोड़ा अंधेरा होने लगा था, मैने गाड़ी कर्नल बाय-पास की तरफ टर्न की ही थी की एक लेडी जिसकी उमर करीब 35 साल के आस पास रही
देल्ही मेट्रो मे मिले गॅंड के मज़े

देल्ही मेट्रो मे मिले गॅंड के मज़े


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हेलो, मैं मॅक्स न्यू देल्ही मे रहता हूँ और देल्ही मे ही एक अछी कंपनी मे जॉब करता हूँ, पहले मैं सारी लड़कियों और आंटीओ को नमस्कार कहता हूँ और आज मैं जो स्टोरी सुनाने जा रहा हूँ वो मेरे साथ देल्ही मेट्रो मे हुई थी (प्लीज़ देल्ही की फीमेल्स मुझे मैल ज़रूर करना सेक्स के बारे मे किसी भी तरहा की बात करने के लिए मेरी मैल आईडी है “[email protected]”) ये वाक़या करीब दस दिन पहले का है मैं रोज़ की तरह ऑफीस “नोईडा सएक 16 मेट्रो” से अपने घर लौट रहा था और मेट्रो मे बहोत भीड़ थी और शाम को ऑफीस टाइमिंग्स की वजह से बहोत भीड़ होती मेट्रो मे, मैं धक्का मुक्की करके जैसे तैसे चढ़ गया मेट्रो मे पर ट्रेन मे पैर रखने की भी जगह नही थी, अगले स्टेशन पे कुछ लोग उतरे तो थोड़ी जगह हुई और मैं अंदर घुस गया पर उससे दुगने लोग चढ़ गये और फिर वही कंडीशन हो गयी, अब मैं जहाँ खड़ा था वाहा मेरे आगे 29-30 साल की एक मॅरीड आंटी खड़
चाचा की लड़की को लकिली चोदा

चाचा की लड़की को लकिली चोदा


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
हेलो दोस्तो, मेरा नाम जिम्मी है और मेरी उमर 23 साल है, मैं कालोल गाँधीनगर का रहने वाला हूँ और यहा पर मैं अपना एक एक्सपीरियेन्स शेर करने जा रहा हूँ, जो मेरे और मेरी कज़िन सिस्टर के बीच हुआ था तो पहले मैं तुम्हे अपने बारे मे बता दू मैं दिखने मे एवरेज लुकिंग हाइट 5.9 इंच और लॅंड 6 इंच लंबा है, अगर आपको मेरी स्टोरी अछी लगे तो प्लीज़ फीडबॅक ज़रूर मैल करना, मेरी मैल आईडी है “जिम्मय्लोवे[email protected]याहू.कॉम”, अब मैं अपनी कज़िन के बारे मे बता दू उसका नाम विधि है और उसकी उमर 19 साल है और वो दिखने मे गोरी चिटी और साइज़ 32,28,36 है, चलो मैं अब अपनी स्टोरी पर आता हूँ, ये मेरी पहली और सच्ची कहानी है और मुझसे कोई भूल हो तो माफ़ करना, मेरे पापा तीन भाई है और हम सभी न्यूक्लियर फॅमिली मे रहते है और एक भाई गाओं मे और दो कालोल मे डिफरेंट सोसाइटी मे रहते है, हम कालोल मे रहते है और जिसके साथ ये इन्सिडेंट