Hindi Font Stories

2018 Dost Ki Behan Ki Chudai दोस्त की बहन का इलाज | AntavasnaSexKahani.com

2018 Dost Ki Behan Ki Chudai दोस्त की बहन का इलाज | AntavasnaSexKahani.com


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
aunty ki chudai ki kahani मेरे विचार में सेक्स एक प्रकार की कला है जिसका मैं कलाकार हूँ। ये तो हुआ मेरा परिचय…….. कहानी बस जरा सी देर में। मुझे आशा है की ये कहानी आपको जरूर पसंद आएगी और आपका भरपूर मनोरंजन करेगी।ये कहानी है मेरे बचपन के लँगोटिया यार अब्दुल की बड़ी बहन फरीदा आपा की, अब्दुल मेरा बहुत गहरा दोस्त था और मैं बचपन से ही उसके परिवार के बहुत करीब था। अब्दुल की बडी बहन फरीदा शादीशुदा थी लेकिन शादी के बाद उसके शौहर और ससुराल वालो ने उसे बाँझ घोषित कर के तलाक दे दिया था। तब से फरीदा आपा अपने मायके में ही रहती थी। वह पुराने ख़यालात की बहुत ही गंभीर स्वाभाव की थी और मुझसे कम ही बात चीत करती थी इसीलिए अपने ठरकी स्वभाव के बावजूद मैं भी उनसे दूर दूर ही रहता था। अब्दुल के माता पिता ने फ़रीदा आपा की दुबारा शादी करवाने की बहुत कोशिश की लेकिन कोई भी लड़का बाँझ लड़की से शादी करने को तैयार न
Didi ki chut ka jalwa  दीदी की चूत का जलवा AntavasnaSexKahani

Didi ki chut ka jalwa दीदी की चूत का जलवा AntavasnaSexKahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
नाज़िया बहुत ही सुंदर गोरे रंग की और शुरू से बहुत हॉट, सेक्सी लड़की है और यह बात कुछ साल पुरानी है जब में 20 साल का था और वो 23 साल की थी. तब मेरे स्कूल की छुट्टियों में मेरे चाचा जी गावं से मुझे लेने आते थे और में उनके साथ चला जाता था. मेरे चाचा जी गावं के एक पोस्ट ऑफिस में काम किया करते थे और चाची जी घर का काम करती थी. उनकी यह एक ही बेटी थी जिसका नाम नाज़िया था. फिर एक बार में और नाज़िया दीदी बाहर आँगन में बैठे हुए कुछ बातें कर रहे थे कि तभी अचानक दीदी ने मुझसे कहा कि तुम दस मिनट इंतजार करो और में अभी आती हूँ. मैंने पूछा कि आप कहाँ जा रही हो? तो वो हंसकर बोली कि में बाथरूम जा रही हूँ और यह बात सुनकर मुझे कुछ कुछ होने लगा और में भी धीरे से उनके पीछे पीछे चला गया. वो बाथरूम के अंदर चली गयी और में बाहर धीरे से वहां पर जाकर रुक गया. तभी मेरी नज़र नीचे दरवाजे पर गई जहाँ पर थोड़ी सी खुली जगह
Didi Ki Jethani Chud Geyie दीदी की जेठानी की चुदाई

Didi Ki Jethani Chud Geyie दीदी की जेठानी की चुदाई


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
  Didi chudai ki kahani 2018 मम्मी और पापा अलग पका के खाते थे विथआउट अनियन एंड गार्लिक. मेरे खाने का इंतजाम कर देने के लिए दीदी की जेठानी को गाँव से बुला लिया था. अरे, बातों-बातो में मैं तो उनका फिगर बताना ही भूल गया. उनका नाम अंजू है (नाम चेंज्ड) बड़ी सेक्सी फिगर है उनका. ३४-३०-३२, जोकि मुझे बाद में पता चला. हलाकि की वो हमेशा साड़ी पहनी रहती थी, पर यारो बड़ी कट्टो पीस थी. जो भी देख ले, उसका लंड खड़ा हो जाये. मैं उन्हें दीदी कहके ही पुकारता था. सो अब स्टोरी पर आता हु. मेरी उनके साथ बहुत पटती थी और हम दोनों हमेशा ही आपस में मजाक करते थे. जब भी मैं गाँव जाता था. तो वो मुझसे मेरी गर्ल फ्रेंड के बारे में पूछती थी और मैं उनको मनगडथ कहानी सुना देता था. मेरी कोई गर्ल फ्रेंड तो थी नहीं. फिर भी उनको मेरी कहानी सुनने में मज़ा आता था. एक दिन तो उन्होंने मेरे गाल पर किस कर दिया. मैं शॉक रह गया
Dost ki bahan ki kamukta  दोस्त की बहन की कामुकता AntavasnaSexKahani

Dost ki bahan ki kamukta दोस्त की बहन की कामुकता AntavasnaSexKahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
  दोस्तों यह बात आज से कुछ दिनों पहले की है. उस समय मेरे दोस्त के पापा किसी दूसरे शहर में किसी काम से एक सप्ताह के लिए गये हुए थे और इसी बीच उसकी बड़ी बहन भी घर पर आ गई थी और वो भी दस दिनों के लिए और किस्मत भी देखो कि उसके घर पर समस्या भी उसी वक़्त आनी थी, मेरे दोस्त को मलेरिया हो गया और वो किसी हॉस्पिटल में भर्ती था और उसी शाम को जब मैंने फोन किया तो फोन उसकी माँ ने उठाया और जब मेरी बात हुई तो मुझे पता लगा कि वो हॉस्पिटल में है और वो यह बात कहकर रोने लगी. फिर उसके बाद मैंने उन्हें थोड़ा समझाया और फिर कुछ देर बाद उन्होंने मुझसे कहा कि घर पर नेहा भी आई हुई है और वो हमारे लिए खाना बनाकर लेकर आएगी. फिर मैंने उनसे कहा कि में खुद आपके लिए खाना लेकर आ जाऊंगा और में इस बहाने से आपसे भी मिल लूँगा. फिर उन्होंने कहा कि ठीक है और फिर मैंने फोन रख दिया और में शाम के 7 बजे अपने दोस्त के घर पर
Dost ki behan ne mera lund chut mei liya Chudai ki kahani 2018 AntavasnaSexKahani

Dost ki behan ne mera lund chut mei liya Chudai ki kahani 2018 AntavasnaSexKahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
अगले ही दिन तानी का कॉल आया और वो बोली “डिम्पी मैं तुमसे मिलना चाहती हूँ” मैं हैरान क्यूंकि जिस लड़की नए मुझे आप से नीचे नहीं पुकारा वो आज मेरा नाम ले रही थी और तू तडाके से बात कर रही थी, मैंने कहा “तानी तू भूल रही है तू किस से बात कर रही है” तो तानी नए कहा “मैं जानती हूँ तुम मेरी जान हो और मेरे ही रहोगे और हाँ चुपचाप मिलने आजाना और मेरे घर वालों या किसी को भी कुछ मत बताना”. मैं थोड़ी देर सोचता रहा और मैंने तानी को फ़ोन कर के कहा तेरे कॉलेज के बाहर हूँ आजा” तानी आई और उसने मुझे अपनी बाइक वहीँ पार्क करने को कहा और मुझे पानी कार में बिठा कर ले गयी. वो हाईवे पर जा रही थी और मेरी गांड फट के गुडगाँव हुई जा रही थी, मैं कहा “तानी कहाँ जा रहे हैं” तो बोली “बैठे रहो आज हम अकेले हैं और खुश हैं” फिर उसने जगजीत सिंह की ग़ज़लें लगा दी जो मेरी भी फेवरेट थीं. तानी नए गाड़ी को कच्चे में उतार दिया जहाँ
muslim sex story कॉलेज की देसी लड़की की जवान चुत

muslim sex story कॉलेज की देसी लड़की की जवान चुत

antarvasna, chudai ki kahani/sali ki chudai, chudai sex kahani, College Sex Stories, Desi Boobs, Desi Khani, girlfriend Sex stories, Girls Sex Nude Stories, Hindi Font Stories, Hindi Kahani, hindi sex kahaniya, Hindi Sex Stories, Hindi Sex Story, Hindi Sexy Kahaniya, hindu muslim sex stories, hotxxxstory, Indian Sex Stories, Indian XXX, indian xxx stories, kamacharitra, kamacharitra sex stories, kamacharitra stories, kamukta, kamukta.com, mastram stories, Muslim Sex Stories, Telugu sex stories, True Sex Stories
Desi Hindi Sex Stories मैं रोज रात को उनके ही बारे में सोच कर अपने लंड को मसला करता था और जब मन हद्द से पार होने लगा तो एक दिन जब हम बस स्टॉप पर बात कर रहे थे मैंने उन्हें मेरे साथ कहीं घूमने जाने की बात कर दी | हम एक जगह किसी अनजाने इलाके में उतरे और ऐसी ही वहीँ पठार के इलाके में चलते हुए बात करने लगे और मैंने देखा की वहाँ दूर दूर तक सन्नाटा ही था और कहीं था भी नहीं | हम वहीँ बैठकर बात करने लगे और मेरा रोमांस का कीड़ा भी जागने लगा | हम बातों में मग्न हो रहे थे और मैं अपनी उँगलियाँ उनकी जाँघों पर लहराने लगा | बीएस अब दीदी भी रोमांस के परवान चढ गयी और हम एक दूसरे को चुमते हुए बेसबर हो गए | मैंने दीदी के टॉप के अंदर हाथ डाल चुचों को दबाने लगा | मैं अब पूरी तरह तन गया और उन देसी लड़की, दीदी टॉप को उतार दिया और उनके चुचों को मुंह से पीने लगा | चुदाई का मन अब जोर देने लगा तो मैंने उनक
Didi Ki Chut Mei Padosi Ka Lund दीदी और पड़ोस वाला आदमी

Didi Ki Chut Mei Padosi Ka Lund दीदी और पड़ोस वाला आदमी


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
behan ki chudai ki kahani अब में अपनी कहानी की तरफ चलता हूँ. मैने दीदी से कहा कि में शहर जाने वाला हूँ. दीदी ने कहा आज नदीम पैसे मांगने आएगा तो में पैसे कहाँ से दूँगी… मैने दीदी को बोला की नदीम को परसो आने के लिए बोलना… में उस दिन अपने किसी काम से शहर मे जाने वाला था. मुझे किसी के साथ अपने काम से जाना था. जब में उसके घर गया तो वो उस वक्त घर मे नही था. तो में वापस अपने घर आ गया। में जब वापस रूम पर आने लगा. जैसे ही में रूम पर पहुचा तो मैने अपने रूम के अंदर से कुछ आवाज़ सुनी. मुझे कुछ अजीब सा लगा। मैने धीरे से जब रूम मे देखा तो पाया की दीदी किचन की तरफ जा रही थी. और नदीम मेरे रूम मे बैठा हुआ था. नदीम एक काला 40साल का मुस्लिम है. उसे देखकर लगता था की वो अभी अभी आया था. वो अपने पैसे की बात कर रहा था. दीदी से पूछा की बताओ कैसे अपने पैसे वसूल करू… तो दीदी ने बोला की अब आप बताइए की कैसे होगा
Mumbai Wali Ameer Bhabi Ki Chudai मुंबई में मिली अमीर घर की औरत

Mumbai Wali Ameer Bhabi Ki Chudai मुंबई में मिली अमीर घर की औरत


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मैंने देखा कि उसने नीले कलर की टी-शर्ट और काली कलर की जींस पहनी हुई थी. वो दिखने में बहुत अच्छी और हॉट सेक्सी थी. वो मेरे पास आई और फिर उसने मुझसे बोला कि तुम जब रेम्प पर चल रहे थे तो बहुत अच्छे लग रहे थे, मुझे तुम्हारा इस तरह से चलाना बहुत अच्छा लगा, तुमने तो वो सब बहुत कमाल का किया. मैंने उससे मुस्कुराते हुए धन्यवाद कहा और उसके बाद में हमारी इधर उधर की बातें शुरू हो गई और हमने करीब आधे एक घंटे तक वहीं पर बातें की. दोस्तों तभी मैंने उससे बातों ही बातों में जाना कि वो एक हॉउसवाईफ है और अभी इस समय बांद्रा में रहती है. उसकी एक बेटी है जिसकी उम्र अभी पांच साल है और उसके पति एक बहुत बड़े बिजनसमैन है और वो अपने बिजनस की वजह से ज़्यादातर आउट ऑफ सिटी रहते है. दोस्तों उनका नाम प्रिया था और जैसा उनका नाम वैसी ही वो खुद थी. बिल्कुल एक गुड़िया की तरह एकदम सुंदर, पतली कमर बड़े बड़े बूब्स, उभरी हुई गांड
muslim sex stories नी की इंडियन गरमा गर्म चुदाई

muslim sex stories नी की इंडियन गरमा गर्म चुदाई

antarvasna, Antarvasna Hindi Sex Stories, Antarvasna Sex Story, aunty sex stories, Chodan, Desi Boobs, Desi Khani, desi sex story, Girls Sex Nude Stories, Hindi Font Stories, Hindi Kahani, hindi sex kahaniya, Hindi Sex Stories, Hindi Sex Story, Hindi Sexy Kahaniya, hindu muslim sex stories, hotxxxstory, Indian Sex Stories, Indian XXX, indian xxx stories, kamacharitra, kamacharitra sex stories, kamacharitra stories, kamukta, kamukta.com, mastram stories, Muslim Sex Stories, Telugu sex stories, True Sex Stories
muslim sex stories नी की इंडियन गरमा गर्म चुदाई दोस्तों रानी मेरी एक सहेली की कॉलेज की इंडियन गरमा गर्म चुदाई का बड़े ही विस्तार से कांड आप सभी को सुनाने जा रहा हूँ | रानी अपने व्यहवार में सीढ़ी साधी ही थी पर शायद मैं ही उसकी जिंदगी का वो लड़का था जिसने उसकी कट में चुदाई का जोश कूट – कूट के भर चूका था अब | दोस्तों मैं आपको बता दूँ की मैं काफे लंबे समय से ही इन्टरनेट पर सेक्स कहानियाँ पढता हूँ और इसीलिए मेरे दोस्तों को बस यह लगता है की मैं कंप्यूटर के बारे में बहुत कुछ जानता हूँ जबकि मुझे कुछ आता जाता ही नहीं है | यही वजह थी की मैं रानी से मिला | हुआ यूँ की दोस्तों एक दिन मेरी सहेली ने मुझे बताया की उसकी एक सहेली को नेट पर कुछ काम करना है कंप्यूटर का और मैं उसकी मदद करूँ  मैंने भी उसकी बात सुन एक बार हाँ कर दी और उसकी सहेली यानी रानी को शाम को मेरे घर भेजने की बात कह दी | शाम को जब रा
desi incest stories सहेली के भाई के साथ सेक्स

desi incest stories सहेली के भाई के साथ सेक्स


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
desi incest stories HOT सर्दियों का टाइम था. मैं आगे बढ़ने के पहले, आप को बता दू; कि मैं एक कमिटेड हु और मेरा एक बॉयफ्रेंड है और उसका नाम आदित्य है और मैं उसे बहुत बहुत, बहुत करती हु. उसके लिए मैं अपनी जान तक दे सकती हु. पर पता नहीं क्यों, मैं हर बार सेक्स लाइफ के लिए फिसल जाती हु. मेरा इरादा कभी मेरे बॉयफ्रेंड को हर्ट करने का नहीं होता है. पर वासना इतनी हावी हो जाती है मुझपर, कि मैं खुद को काबू में नहीं रख पाती. और गरम देसी सेक्स के अलावा मुझे कुछ भी नज़र नहीं आता. चाहे किसी भी अच्छे से हॉट लड़के के साथ हो. वो पल होते है, जिसमे मैं दुनिया भूल जाती हु और बस मस्ती में वासना के मज़े लेती रहती हु. ख़ैर, उसके बाद मुझमे हिम्मत नहीं होती, कि मेरी जान से आके मैं सब कुछ सच सच बता हु, पर बताये बिना भी नहीं रहा जाता.desi incest stories ये बात २०१२ की सर्दियों की एक शाम की है. मैं मेरी पक्की सहेली