maa sex kahani

maa ke kahne par jamkar chudai ki

maa ke kahne par jamkar chudai ki


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मेरी उम्र 21 साल की है और मेरी प्यारी माँ 43 साल की है। घर पर मेरी माँ और में रहता हूँ। मेरी माँ एकदम सेक्सी है। उनकी बहुत मद मस्त जवानी है। उसके कूल्हे बहुत अच्छे लगते हैं। मैंने एक बार जब वो सोई हुई थी तो तब उसके कमरे में जाकर उसकी गांड देखी थी और बड़ा उत्तेजित हुआ था। मुझे उनकी गांड चाटने का बहुत मन होता था। लेकिन मौका नहीं मिलता था और भी हिम्मत नहीं होती थी। लेकिन एक दिन मौका भी मिला मुझे। मेरी माँ भी मेरे खड़े हुए लंड को बार बार देखती थी। मैं सोने की एक्टिंग करता था और वो मेरे पास सो कर मेरे पीछे से मेरे लंड को पकड़ कर सहलाती थी और मैं आँखे बंद करके बहुत मज़ा लेता था। माँ अपनी छाती को मेरे हाथो से दबवाती थी और एक बार तो मेरा लंड चूस भी लिया था। में भी एक्टिंग करता था और माँ की गांड को मसलता रहता था। एक बार मैंने बाथरूम खोला तो देखा की माँ आधी नंगी बैठ कर कपड़े धो रही थी और उसक
mummy ki chudai hot kahani

mummy ki chudai hot kahani

aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, Hindi Sex Stories, maa ki chudai, maa sex kahani
मैं पहले अपनी मम्मी के बारे मे बता दू उनका नाम हेमा है और प्यार से लोग मेरी मम्मी को रूबी नाम से बुलाते है उनकी उमर तब 26 होगी मेरी मोम का फिगर है बूब्स (चुचे)-36 और कमर-30 और गॅंड-38 की है और एक बात मेरी मम्मी की गॅंड थोड़ी सी बाहर की तरफ निकली हुई है. अब मैं स्टोरी पर आता हू मेरी मम्मी उनके गाओं की बोहोत बड़ी रंडी है ये मुझे बाद मे पता चला और एक दिन मेरी मम्मी की गाओं मे कोई फंक्षन था तो मम्मी ने पापा को बोला तो पापा ने कहा की मुझे काम है तुम चले जाओ. तो मम्मी ने कहा ठीक है तो मैं और मम्मी अगले दिन निकल गये दोपहर की गाड़ी से गाओं के लिए ह्मारा गाओं हरयाणा मे है तो हम शाम तक पहुच गये और पहुच कर शाम को तैइय्यार हो कर फंक्षन मे गये तो वाहा पर एक अंकल मेरी मम्मी को देख कर स्माइल पास कर रहे थे. उनकी उमर लग भाग 30 की होगी पर बोहोत ज़्यादा स्मार्ट और आछे शरीर वाले थे और मैने मम्मी की त