Dost ki Biwi ki Nasik mai Chudai 2 • Hindi Sex Stories

 

Dost ki Biwi ki Nasik mai Chudai – 2 नाशिक से आने के एक दिन बाद मेरी बीबी ने कहा कि मोबाइल कि रिंगटोन बदल दजिए तो मैं रिंगटोन बदलने लगा आगे के रूम में और बीबी नहाने चली गई तो रिंग टोन सर्च करते करते मेरी बीबी और मेरे दोस्त कि गन्दी गन्दी बाते सुन लिया जो फोन में रिकार्ड थी मेरी संका पक्की निकली मैंने ऐसे कई रिकार्ड सूना दोस्त और मेरी बीबी कि मैं उन सभी रिकार्ड को ब्लूटूथ से अपने मोबाइल में ले लिया पर ये बात बीबी को पता नहीं चलने दिया।

अगले दिन ही मैं दोस्त के घर गया जब ओ बैंक चला गया जाते ही नीलिमा से लिपट गया और नीलिमा को किस किया उसके बूब्स को दबाया फिर आगे के रूम में बैठकर बाते करने ,तो देखा कि टेबल पर दोस्त का मोबाइल रखा जो उसने उस दिन जल्दी जल्दी में घर ही छोड़ कर चला गया था मैं उसके मोबाइल के फोटो देखने लगा जिसमे कुछ फोटो मेरी बीबी के भी थे नाशिक के हास्पिटल के रूम के पर ओ फोटो आपत्तिजनक नहीं थे फिर भी मुझे संका हुई तो मैं उसकी हाइड कि गई फाइलो को चेक करने लगा तो पासबर्ड माग रहा था तो मैंने नीलिमा से पासवर्ड पूछा तो नीलिमा ने बताया कि मेरी जन्म तारीख होगी मैंने ट्राई किया पर पासवर्ड गलत निकला तो मैंने मेरी बीबी का नाम डाला तब भी गलत निकला इस तरह से कई पासवर्ड डाला सभी गलत निकले तब मैंने मेरी बीबी का नाम और डेट ऑफ़ बर्थ ”reeta181272” डाल कर देखा तो पासवर्ड सही निकला और उसके सैमसंग एंड्राइड मोबाइल में मेरी बीबी कि बहुत सी फोटो मिली कुछ फोटो तो बिलकुल नंगी थी मैं फोटो को देखा तो बहुत गुस्सा आया पर फिर अपने आप को समझाया कि जब मैं दोस्त की बीबी के साथ शारीरिक संबध बना सकता हु तो उसने भी मोके का फायदा उठाया जब मैं मोबाइल को और गहराई से चेक किया तो कई वीडिओ मिले जो दोस्त ने रीता कि चुदाई करते समय बना लिया था मैंने पहले वीडिओ को देखा फिर नीलिमा को दिखाया तो नीलिमा बोली ये तो होना ही था नीलिमा ने कहा कि मुझे तो बहुत पहले से ही संका थी कि इन दोनों का चक्कर है, उस दिन रीता दी जान बूझकर बीमार पडी थी फिर मैंने नीलिमा को बोला कि इसे मैं मेरे मोबाइल में लेता हु तो नीलिमा बोली ले लो पर रीता दी से झगड़ा नहीं करना तो मैंने वोला टीक है नहीं करुगा मैंने नीलिमा से उसका लैपटाप मागा और उसमे चिप रीडर लगाकर चिप से सभी फोटो और वीडिओ को अपने मोबाइल में ले लिया और दोस्त कि चिप से सभी वीडिओ और फोटो को हटा दिया और वापस उसके मोबाइल में चिप लगाकर नीलिमा को दे दिया नीलिम को किस किया और घर आ गया उसी दिन मैंने मेरी पत्नी से बोला कि उस दिन नाशिक में डाक्टर ने रात में भी इंजेक्सन लगाया था क्या तो बीबी ने मना कर दिया और बोली नहीं तो रात में कोई इंजेक्सन नहीं लगाया था डाक्टर ने तो मैं हॅसते हुए बोला अच्छा डाक्टर ने नहीं लगाया तो फिर बिना इंजेक्सन के टीक हो गई तो बोली हां डाक्टर ने टेबलेट दिया था और बाटल में इंजेक्सन लगा दिया था बस उससे टीक हो गई तो मैंने हॅसते हुए बोला सच में और नहीं लगवाया इंजैकसन तो फिर ओ मेरी तरफ संका भरी निगाहो से देखी और बोली , आप ये बार बार क्यों पूछ रहे है तो मैं हॅसते हुए टाल दिया | और रात में चुदाई का प्रोग्राम बनाया तो बीबी आनाकानी करने लगी बोली तबियत टीक नहीं है पर मैं एक नहीं सुना और तैयार कर लिया चुदाई के लिए और रीता के एक एक करके सभी कपडे उतार कर कर लिया और रीता के एक एक अंग को किस करने लगा रीता के सरीर में खासकर चूत के पास जांघो में , चुचियो के नीचे , चूतड़ो पर , कमर के नीचे कई जगह पर लाल लाल निसान पड़े हुए थे मैंने उस निसान के बारे में रीता से पूछा रीता आनाकानी करने लगी मैंने सोचा अभी इसे ये दिखा दू जिससे ये बदले नहीं , ये नहीं कहे कि आपने ये निसान बनाये किस करके फिर मैंने रीता को चुदाई के लिए खूब गरम कर लिया और रीता के ऊपर चढ़ गया और चोदने लगा जब रीता खूब गरम पड़ गई अपने मुह से उउउउउउऊ ऊऊ ऊऊ आआआ आ आआ स्स्स् स्स्स्स्स आआअ आआ आआआ आआ आ

ह्हह्ह ह्हह् हह्ह कि आवाज निकालने लगी अपनी आँखे बंद कर लिया चुदाई करते करते तो लण्ड के झटके मारना बंद कर दिया और निसान के बारे में पूछने लगा तो रीता कुछ नहीं बोली और बेड पर तड़पने लगी मछली कि तरह पर मैं रीता को तड़पाने के मूड में था थोड़ा झटके मारता और फिर बंद कर देता रीता मेरे कमर के नीचे हाथ लगाकर अपने हाथो से मेरे नितम्बो को आगे पीछे करने लगी पर मैं रोक लेता बीच बीच में तो ओ तड़पने लगती फिर मैं उससे नाम पूछता पर रीता नाम बताने को तैयार नहीं थी बार बार कुछ नहीं कहती और मेरे चूतड़ो को हिलाती पर मैं नहीं हिलाने देता चूतड़ो को पर मैं भी तड़पाते रहा आखिर में रीता हार मान गई और बोली ”निशा के पापा के ”[नीलिमा कि लड़की का नाम है निशा] तब मैंने जल्दी जल्दी झटके मार कर रीता को ठंढी कर दिया रीता हफ्ते हुए बेड पर बेसुध होकर लेटी रही फिर जब ओ पूरी तरह से रिलेक्स हो गई और कपड़ा पहनने लगी तो फिर से मैंने बोला ये निसान देख लो तो बोली हां देखा है बाद में बताउगी फिर जब रीता कपडे पहन कर लेट गई तो मैंने उससे पूछने
लगा तो टालने तब मैंने उससे बोला बताओ ना यार कैसे किया निशा के पापा ने तुम्हारे साथ तो फिर से बहाने बनाने लगी तो मुझे गुस्सा आ गया और जोर से चिल्लाकर पूछा बताती हो या दू एक थप्पड़ तो रीता डर गई और बोली चिल्लाइए नहीं बच्चे जाग जायेगे तो मैंने बोला बताओ फिर तो रीता बोली बता दुगी अभी तो सो जाओ तो मैंने बोला नहीं बताओगी पर मैं सब जान गया हु और इतना कहकर रीता को ओ आवाज ,फोटो व वीडिओ दिखा दिया ओ ये सब देखसुन कर सर्म से गड़ गई उसके मुह से कुछ आवाज ही नहीं निलकी फिर मैंने उसे समझाया कि चल तूने कर लिए तेरे मन कि अब तो बता दे क्यों किया ऐसा तब रीता रोने लगी और सारी बात बताई |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *