Tag: bhai ne choda

बीना के बहकते कदम – 1

बीना के बहकते कदम – 1

Desi Boobs, Desi Khani, Girls Sex Nude Stories, Hindi Sex Stories, Indian XXX, Telugu sex stories
प्रेषक : अभिषेक … हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अभिषेक है, अब रात के करीब 12 बज रहे थे और जया अपने बॉयफ्रेंड विक्की से वाट्सअप पर चैटिंग कर रही थी, जब जया 19 साल की थी और विक्की 22 साल का था। जया विक्की से बहुत प्यार करती थी और उससे ही शादी के सपने देखती थी। उन दोनों में अक्सर रोमांटिक चैटिंग होती थी, लेकिन असल में बात किस्सिंग से आगे नहीं बढ़ी थी। फिर रात 1 बजे जब जया ने विक्की से गुड नाईट कहा और सोने से पहले पानी पीने के लिए किचन की तरफ बढ़ी। तो उसने अपने पेरेंट्स के कमरे से माँ के चीखने की आवाज़ सुनी, तो वो घबराकर उनके कमरे की तरफ बढ़ी और दरवाजा लॉक करने ही वाली थी। तभी उसे अपने पापा की आवाज़ सुनाई दी और जो उसने सुना उसे सुनकर वो शॉक्ड हो गयी, अब उसके पाव ज़मीन पर जम गये थे, अब उसे अपने कानों पर यकीन ही नहीं हुआ था। अब उसके पापा उसकी माँ को गालियाँ दे रहे थे, साली रंडी की बच्ची आज में
yaa to aaj phir kabhi nahi

yaa to aaj phir kabhi nahi


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मामा ने पूछ, रात केसी गुर्जरी, नींद अच्छी से आयी य नहिन. yaa to aaj phir kabhi nahi – 1 मैंने कहा, जबरदस्त, ऐसी मुबारक रात सब को मिले. यह सुन कर सब ही मुस्कुरने लगे. भाई ने पूछा, सम ! तैराकी अच्छी से सीख ली न. मैंने जवाब दिया, बहुत कुछ सीख लिया. हम लोग घर पहुँच गये और मामा हम लोगोन को छोड़ कर अपने घर चले गये. उन्हें जाते हुए देख कर मैंने मुस्कुर कर शुक्रिया अदा किया और वोह मुस्क्रथे हुए चल्ले गये. मैं दिल में सोच रही थी कि अब अगली बार मामा से किस तरह मज लुंगी और अब तो कोई मुश्किल भी नहीं. मैं अपने कमरे में चली गयी और शोवेर लेकर सो गयी. सरी रात तो जगी थी. मैं ने तो फार्म हाउस में अपनी जिन्दगी की सब से सोहानी रात गुजरी थी. शाम को सो कर उठी और भाभी के कमरे में चली गयी. वोह भी अभी सो कर उठी थी. शायद उन्होने ने भी भाई के साथ फार्म हाउस का लुत्फ उथाय था. भाईया शोवेर ले रहे थे
पड़ोस की गोरी चिकनी लड़की की चूत

पड़ोस की गोरी चिकनी लड़की की चूत

Bhai bahan sex story, bhai behen sex kahani, bhatiji, big boobs, big cock, bikini, biwi ki chudai, Biwi ki garam dost, Blowjob sex kahani, blowjob sex stories, boobs, Boobs mote kardiye, bra, chudakkad, chudakkad ladki, chudas, COUSIN KI MUST CHUDAI, Cousin ki zabardasti chudai, cum, cunt, dardbhari chudai, Darzi Se Chudai Urdu Kahani, desi chudai kahani, desi cock, Desi gangbang sex stories, desi hot stories, Desi incest sex stories, desi kahani, desi lund, Desi voyeur sex stories, Desi wife fucked by beggars sex stories, Desi wife fucked by Muslim sex stories, dost ki biwi, Dost ki cute behen, DOST KI SIS KO CHODA, Ek anokhi family ki kahani, EK GHALTI COUSIN KE SAATH, Ek Mast Ladki Ko Patake Choda, Group Sex, group sex stories, Groupsex, hindi chudai kahani, hindi chudai ki kahani, hindi font sex kahani, kamuk ladki, kamukta
hindi sex kahani मेरा नाम सोहन है और मैं गांव में रहता हूं, मेरी उम्र 20 वर्ष की है। मैंने गांव के स्कूल से ही पढ़ाई की है इसलिए मैं पढ़ने में भी ज्यादा अच्छा नहीं हूं। मेरे पिता खेती का काम करते है और वह खेती-बाड़ी कर के ही अपना गुजारा चलाते हैं। मेरी मां और मैं उनके साथ खेत में काम करते हैं। मेरा बड़ा भाई शहर में ही पढ़ाई करता है, उसका नाम सूरज है। उसे शहर में रहते हुए काफी वर्ष हो चुके हैं और वह बेंगलुरु में रहता है। मुझे अपने माता पिता के साथ रहना ही अच्छा लगता है इसलिए मैं उनके साथ ही खेती का काम करता हूं। मुझे उनके साथ काम करना बहुत ही पसंद है और मैं अपने घर के सारे काम खुद ही कर लिया करता हूं लेकिन मेरे पिताजी मुझे कहने लगे कि तुम अपने भाई के पास शहर चले जाओ। मैंने उन्हें कहा कि मैं शहर जाकर क्या करूंगा, वो कहने लगे कि तुम यदि शहर जाओगे तो तुम्हें अच्छा लगेगा और तुम अपने भाई को
bhabhi ka gangbang chudai

bhabhi ka gangbang chudai


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मेरा नाम स्वाति हे और मैं 25 साल की हाउसवाइफ हूँ. मेरी शादी को एक साल हो चूका हे पर मेरे पति अभी तक मुझे दिन रात चोदते हे. एक भी रात ऐसी नहीं होती हे जब वो मेरी चूत न बजाये! मेरी कोलोनी के सारे लड़के मेरी सेक्सी फिगर के दीवाने हे. और जब भी मैं अकेले निकलती हूँ तो सब फ्लर्ट करते हे मेरे साथ. मैं हमेशा बहोत छोटा ब्लाउज पहनती हूँ और साडी भी काफी लो वेस्ट पहनती हूँ. ब्लाउज बेकलेस होता हे और इतना डीप की क्लीवेज दिखे अच्छे से. मुझे अच्छा लगता हे जब लड़के मुझे देख के ललचाते हे. एक दिन ऐसे ही मैं अकेले वाल्क पर निकली कोलोनी में. मेरे घर के पास में तिन लड़के रहते हे किराए पर जो कोलेज में पढ़ाई करने आये हे यहाँ. रोहन, अक्षय और विजय नाम हे उन्के. उन लोगों ने मुझे देखा तो आ गए बातें करने के लिए. रोहन: अरे भाभी आप तो बहुत दिनों के बाद में दिखी आज. वैसे आजकल लगता हे काफी बीजी हो आओ? मैं: नहीं बीजी त
किरायेदारनी को अपनी रांड बनाया

किरायेदारनी को अपनी रांड बनाया

Desi Boobs, Desi Khani, Girls Sex Nude Stories, Hindi Sex Stories, Indian XXX, Telugu sex stories
प्रेषक : रोहित … हैल्लो दोस्तों, अब में आप सबसे अपना परिचय करा दूँ। मेरा नाम रोहित है, में 29 साल का हूँ और मेरे घर में एक किराएदार है, जिसका नाम शीला है, उसकी उम्र 26 साल है, वो बहुत ही सुंदर और सेक्सी है, उसका फिगर बहुत ही अच्छा है और वो बहुत ही सेक्सी है। उसकी फेमिली में वो, उसका पति और एक छोटा सा बच्चा है। अब में आपका समय ज्यादा खराब नहीं करते हुए सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ। यह 1 साल पहले की बात है, जब में 22 साल का था, में शीला को जब भी देखता था, तो मेरा लंड खड़ा हो जाता था और उसके बारे में सोचता रहता था। में उसके साथ सेक्स करना चाहता था और उसके बूब्स जो कि बहुत ही सुंदर है, उन्हें दबाना चाहता था और उसके होंठो को चूसना चाहता था, लेकिन में कुछ कर नहीं पाता था। में उसके घर में उसके बच्चे को खिलाने के बहाने से जाता रहता था, उसका पति एक प्राइवेट कंपनी में काम करता है, तो वो जब भी घ
behen ke liye lund ka intajam

behen ke liye lund ka intajam


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
दोस्तों, मैं अरुण लखनऊ से हूँ. . इनकी कहानियाँ बहुत ही जादा मनोरंजन देती है. और चुदाई की नयी नई टिप्स भी देती है. तो मैं भी आज अपनी सेक्स कहानी को लेकर हाजिर हूँ. तो आपको अपनी चुदाई कहानी सुनाता हूँ. क्या हिन्दुस्तान में हम अपनी बहनों को छू सकते है, उनको हाथ लगा सकते है. अगर बिना लाग लपेट के बात करे तो मैं हम सभी भाई अपनी बहनों को खुलकर बिना किसी भय और लोक लाज के चोद सकते है. हिंदुस्तान इतना रुढिवादी क्यूँ है. क्यूँ अब संस्कारों का बोझ अपने कन्धों पर धो रहे है. विदेशों की तरह हम भाई क्यूँ नहीं अपनी बहनों को चोद सकते है. सेक्स और चुदाई को लेकर हमारे देश में इतने नियम, इतने उसूल आदर्श क्यूँ है. उस दिन जब मैं शांत अकेला घर में बैठा था तो घूम फिर कर यही सब बातें मेरे जहन में आ रही थी. ये सुनने में आया था की मेरी बहन पूनम किसी मुस्लिम लड़के से बात करने लगी है. ये बात मेरे पुरे मोहल्ले में आग की
renuka or uski behen pooja

renuka or uski behen pooja


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
वे हँसने लगे और बोले- मुझे सब पता है ! और आप मेरे बारे में रेणुका से सुन ही चुके हैं। सच तो यह है कि मैंने ही रेणुका से अपनी बिमारी के बारे में आपसे चर्चा करने को कहा था क्योंकि मैं अपने सूत्रों से जान गया था कि आप सेक्सोलाजी में महारत हासिल किए हुए हैं और उस समय रेणुका ने आशंका जताई थि कि कैसे वो आपसे बात करेगी, मैंने ही उसे ढांढस बंधाया था और यह भी कहा था कि इतना स्मार्ट आदमी यदि तुमसे सेक्स कर ले और उसका जीन्स तुम में पहुँच जाय तो हमारा बच्चा कितना सुन्दर और तीव्र बुद्धि का होगा। आप तो जानते ही हैं कि मैं थोड़ा छोटे कद का हूँ और साँवला भी तथा सेक्स में बीमार ! सब मिला कर जो आपका साथ रेणुका को मिला उसके लिए धन्यवाद और अपेक्षा यही करता हूँ कि आगे भी आपका सहयोग हम पाते रहेगें। मैं खुश हो गया, आज यकीन हो गया कि चौधरी जी तो अच्छे इन्सान हैं ही पर रेणुका एक सबसे सच्ची और अच्छी पत्नी ! मै
Hindi Porn Story Makan Malik Ki Beti Ki

Hindi Porn Story Makan Malik Ki Beti Ki


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मेरा नाम माधव शर्मा है, मैं इंदौर में पढ़ाई करता हूँ और यहाँ किराये के एक रूम में रहता हूँ। मेरी हिन्दी पोर्न स्टोरी की घटना आज से चार माह पहले की है जब मैं अपने नए रूम में रहने के लिए आया था, अभी दो दिन हुए थे यहाँ पर, एक दिन शाम के टाइम में सो कर उठा था, मेरा लंड लोअर में तम्बू बनाये हुए था और मैं उसे पकड़ कर मसलते हुए फोन पर बात करने लगा. तभी मेरी नजर खिड़की के बाहर गई जहाँ एक लड़की खड़ी थी और वो मेरे खड़े लंड को देख रही थी. मैं उसे देख के पहले तो धीरे से खिड़की से हट गया पर फिर मेरे मन में ख्याल आया क्यों न इसे लंड देखने दूँ. यह सोच कर मैं वहीं आकर खड़ा हो गया जहां से उसे मेरा लौड़ा मसलना दिखाई दे. मैंने अनजान बनते हुए लौड़ा मसलना चालू रखा और फोन पर बात करते रहा. थोड़ी देर बाद उसकी तरफ नजर घुमाई तो देखा कि वो जा चुकी थी। मेरा लौड़ा उसे देखते हुए देख कर तो उसे चोदने का मन होने लगा और मैं
chudai ka maza shadi se pahle

chudai ka maza shadi se pahle


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मेरा नाम अमित है और मैं बहराइच के रहने वाला हूं, फिलहाल पढ़ाई की वजह से मैं लखनऊ में रहता हूं। पढ़ाई का खर्च निकालने के लिए मैं जिगोलो का काम भी करता हूं; इससे थोड़ी बहुत आमदनी भी हो जाती है और खर्चा भी निकल जाता है। जिगोलो के काम के चलते मेरी बहुत सारे लोगों से जान पहचान भी हो गई है, जिनमें अधिकतर आंटियां भाभियां और नई उम्र की लड़कियां भी हैं। जैसा कि सभी जानते हैं जिगोलो के काम में अपने आप को मेंटेन रखना बहुत जरूरी होता है हमारा शरीर ही हम लोगों को काम दिलाता है और नए-नए क्लाइंट दिलाता है। लखनऊ में मेरे बहुत सारे क्लाइंट थे ज्यादातर हमारी बुकिंग नाम बदल कर होती है इस तरह महीने में 10 से 12 दिन काम के निकल जाते हैं और अच्छी खासी आमदनी भी हो जाती है। एक दिन मैं बैठा हुआ था, तभी मेरे पास एक कॉल आई कॉल पिक करते ही, उधर से एक बहुत मीठी सुरीली सी आवाज सुनाई पड़ी। मैंने उससे पूछा
jandaar lund or shaandar chudai

jandaar lund or shaandar chudai


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
मेरा नाम सुमित्रा है. मुझे लोग सूमी कह कर बुलाते हैं. मेरी उमर 38 साल, रंग गोरा और और बॉडी एक दम स्लिम. मैं सूरत की रहने वाली हूँ. मेरे पति बहुत ही अमीर बिज़्नेसमॅन थे. 2 साल पहले ही उनका एक एक्सिडेंट में स्वरगवास हो गया था. मैने 32-33 साल की उमर तक उनसे चुदवा कर खूब मज़ा लेती थी. उसके बाद मुझे ना जाने क्या हुआ कि वो मुझे चोदने के बाद जब 30-35 मिनट में झड़ने वाले होते तब कहीं जा कर मुझे थोड़ा थोड़ा जोश आना शुरू होता था और मैं चुदाई का बिल्कुल मज़ा नहीं ले पाती थी. 33 साल की उमर के बाद से मुझे चुदवाने में बिल्कुल मज़ा नहीं आता था क्यों कि मैं झाड़ नहीं पाती थी. उनके स्वरगवस के बाद मेरा संबंध अपने मॅनेजर से हो गया. मैने उस से भी खूब चुदवाया लेकिन मुझे उस से भी मज़ा नहीं मिला. क्यों कि जब तक मुझे जोश आना शुरू होता तो वो झाड़ जाता था. मेरी एक सहेली निशा है. उमर में वो मुझसे 5 साल बड़ी है