Tag: housewife sex stories

XXX My Servant Fucked Me In My Bedroom Sex- indian sex stories Antavasna Sex Kahani

XXX My Servant Fucked Me In My Bedroom Sex- indian sex stories Antavasna Sex Kahani

Antarvasna Hindi Sex Stories, Antarvasna Sex Story, Bhabhi Ki Chudai, Chodan, Chut Ki Chudai, Couple Sex, Desi Boobs, Desi Khani, desi sex story, Didi Ki Chudai, English Sex Stories, Girls Sex Nude Stories, Hindi Kahani, hindi sex kahaniya, Home sex Stories, hotxxxstory, Indian Sex Stories, Indian XXX, indian xxx stories, kamacharitra, kamacharitra sex stories, Telugu sex stories, True Sex Stories
Such horny that to get satisfaction I need 5times fuck per day so my husband chooses me because of my sexiness. After marriage we move to a rented house of 3floor. In the basement there are two bedrooms, one kitchen, one bathroom cum toilet and a drawing room. And in the 2nd floor there are 2 bedrooms, 2 bathrooms cum toilet. Roof is at top of it. He was a duty of 8hours between 10 am to 6 pm. And he started for office at 9 am and return at 7-7.30pm. Between those times I was free and lonely. So I have nothing to do and as I am new there I have no friend. So after 5days I told him to fix a servant who will help me in all housework and I will get a friend. So he called her friend and told him for an honest and good servant. Couples of day later a man of age late 25 came to our house and...
shadi shuda aurat ki chudai kahani

shadi shuda aurat ki chudai kahani

aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, hindi porn kahani, Hindi Sex Stories, kamukta stories
मेरा नाम अरिजीत मुखर्जी है. मैं 18 साल का हूँ, और अपनी 42 बरस की माँ, गौरी मुखर्जी के साथ मुंबई में रहता हूँ. मेरी माँ एक बेहद खूबसूरत बंगाली औरत है, कद 5’4’’, फिगर 37D-30-38 ज़्यादा मोटी नही है पर उसका बदन एक दम गदराया हुआ है. और बंगाली औरतों से हटके वो बेहद गोरी है. वो मुंबई में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती है. शादी के कुछ सालों बाद तक वो हमेशा साड़ी ही पहनती थी, पर आजकल सलवार सूट पहनती है. साड़ी कभी कभी त्योहार के टाइम पर ही पहनती है. पर सलवार सूट में भी लोग उसको घूरते थे, 40 की उमर में भी वो किसी भी मर्द को आकर्षक लगती थी. मेरे पापा देव मुखेर्जी, ONGC में काम करते हैं. ज़्यादातर घर से बाहर ही रहते हैं. सेक्स में मेरी रूचि तब पैदा हुई जब में 14 साल का था. मेरी क्लास में एक दोस्त था, क़ासिम, जो मुझे ब्लू मूवीस और प्लेबाय मॅगज़ीन्स दिखता था. हमाँरा बांद्रा में एक बड़ा फ्लॅट था. म
chachi ragini ki chudai incest kahani Hindi Sex Stories

chachi ragini ki chudai incest kahani Hindi Sex Stories


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
chachi ragini ki chudai incest kahani ये तब की बात है जब मेने अपने 18 वे साल में कदम रखा था. मेरे चाचा जो मुझसे सिर्फ़ 8 साल बड़े थे उनकी शादी हो गयी. मेरे दादा दादी ना रहने पर पिताजी ने ही चाचाजी को पल पोस कर बड़ा किया था. चाचा ने पिताजी के साथ कारोबार संभाल लिया था. मेरी चाची रागिनी मुझसे सिर्फ़ 4 साल बड़ी थी. एक बार छुट्टियों में पिताजी ने माताजी के साथ यात्रा पर जाने का मन मना लिया. हम लोगो का कपड़े का व्यापार था. जिसकी वजह से चाचा अक्सर टूर पर जाते रहते थे. मेरी चाची मुझे बहुत पसंद करती थी अक्सर कहती थी कि एक में ही हूँ जिससे वो बात कर सकती है. जब पिताजी यात्रा पर चले गये तो चाची मेरा कुछ ज़्यादा ही ध्यान रखने लगी. वो हर तरह से मेरा ख्याल रखती और मुझे अपनी माताजी की कमी नही खलने देती थी. मुझे भी उसके साथ रहने बहुत ही मज़ा आता था. हम अकस्सर खाली समय में हँसी मज़ाक करते, त
garmi ki raat chudai papa ke sath

garmi ki raat chudai papa ke sath


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
garmi ki raat chudai papa ke sath बात उन दिनों की है जब मैं नयी नयी जवान हुई?.. थी यानी मैं सिर्फ १६ साल की थी,और तभी मैंने ये जाना की पुरुष के हाथो का स्पर्श कितना प्यारा और आनंद दाई हो सकता है?हाँ वोही स्पर्श जो मेरे पापा के हाथ कभी मेरी गांड, कभी मेरी कागजी निम्बू जैसी चुचियो को सहला कर मुझे बेखबर जान कर महसूस करते थे?.. मेरी सहेलिया मुझे अक्सर मेरे सामने औरत और मर्द के रिश्तो की बात करती थी, मैं फिर भी बेखबर थी,जानती ही नहीं थी क़ि क्यों मैं ऐसा फील करती हूँ?? क्या कारन है क़ि मैं सब लड़कियों की चुचियों को,और सब लडको के पेंट के उस उभरे हिस्से को मैं इतने लालच से, इतनी गौर से देखती हूँ??. उस दिन जब पापा बनारस से आये और मुझे पुकारा .. मैं भागी भागी उनके पास गयी और बोली ..हांजी पापा!! पापा बोले.. अरे बेटा इतनी दूर क्यों खड़ी है यहाँ आ देख मैं तेरे लिए क्या लाया हूँ?? मैं पास आकर पापा