Tag: indiansexstories.net

देवर से चूत मरवाने की इच्छा

देवर से चूत मरवाने की इच्छा

antarvasna, Bhabhi sex story, Bhai bahan sex story, bhai behen sex kahani, bhatiji, big boobs, big cock, bikini, biwi ki chudai, Biwi ki garam dost, Blowjob sex kahani, blowjob sex stories, boobs, Boobs mote kardiye, bra, chudakkad, chudakkad ladki, chudas, COUSIN KI MUST CHUDAI, Cousin ki zabardasti chudai, cum, cunt, dardbhari chudai, Darzi Se Chudai Urdu Kahani, desi cock, Desi gangbang sex stories, desi hot stories, Desi incest sex stories, desi kahani, Desi voyeur sex stories, Desi wife fucked by beggars sex stories, Desi wife fucked by Muslim sex stories, devar bhabhi, dost ki biwi, Dost ki cute behen, DOST KI SIS KO CHODA, Ek anokhi family ki kahani, EK GHALTI COUSIN KE SAATH, Ek Mast Ladki Ko Patake Choda, Group Sex, group sex stories, Groupsex, hindi chudai kahani, hindi chudai ki kahani, hindi font sex kahani, indian lund, pyasi chut
bhabhi sex stories, antarvasna हेलो दोस्तों, मेरा नाम संगीता है और मैं 28 वर्ष की शादीशुदा महिला हूं। मेरी शादी को 5 वर्ष हो चुके हैं, मेरे पति मनोज का व्यवहार भी अच्छा है, वह मेरा बहुत ही ध्यान रखते हैं परंतु उसके बावजूद भी मैं अपने देवर के प्रति कुछ ज्यादा ही समर्पित हूं मेरे देवर का नाम गौतम है। मेरे पति मेरा बहुत ध्यान रखते हैं लेकिन उसके बावजूद भी ना जाने मेरा झुकाव मेरे देवर के तरफ ही है। वह दोनों साथ में ही काम करते हैं और हम लोग पुणे में रहते हैं। पुणे में ही मेरे पति का मार्बल का काम है और मेरे देवर भी उनके साथ ही काम करते हैं। उन दोनों भाइयों के बीच में बहुत प्रेम है लेकिन अभी गौतम की शादी नहीं हुई, उसके लिए मेरे सास और ससुर लड़की देख रहे हैं। मैं जब भी अपने देवर से बात करती हूं तो मुझे उनसे बात करना बहुत अच्छा लगता है, वह बात करने में बहुत ही शांत स्वभाव के हैं,  वह बहुत ही
बॉयफ्रेंड से मिलने को किया बहाना

बॉयफ्रेंड से मिलने को किया बहाना

antarvasna, Bhai bahan sex story, bhai behen sex kahani, bhatiji, big boobs, big cock, bikini, biwi ki chudai, Biwi ki garam dost, Blowjob sex kahani, blowjob sex stories, boobs, Boobs mote kardiye, bra, chudakkad, chudakkad ladki, chudas, COUSIN KI MUST CHUDAI, Cousin ki zabardasti chudai, cum, cunt, dardbhari chudai, Darzi Se Chudai Urdu Kahani, desi chudai kahani, desi cock, Desi gangbang sex stories, desi hot stories, Desi incest sex stories, desi kahani, Desi sex stories, Desi voyeur sex stories, Desi wife fucked by beggars sex stories, Desi wife fucked by Muslim sex stories, dost ki biwi, Dost ki cute behen, DOST KI SIS KO CHODA, Ek anokhi family ki kahani, EK GHALTI COUSIN KE SAATH, Ek Mast Ladki Ko Patake Choda, Group Sex, group sex stories, Groupsex, hindi chudai kahani, hindi chudai ki kahani, hindi font sex kahani, kamukta, kiss
hindi sex story मेरा नाम सौम्या है मैं दिल्ली में रहती हूं और मेरी उम्र 22 वर्ष है, मैं कॉलेज में पढ़ाई करने वाली छात्रा हूं, मैंने अपने स्कूल की पढ़ाई दिल्ली से ही की है। मेरे पिताजी को दिल्ली आए हुए काफी वर्ष हो चुके हैं, हमारे सारे रिश्तेदार बेंगलुरु में ही रहते हैं और मेरे पिता जी दिल्ली आ गए थे, दिल्ली में ही उन्होंने अपना कारोबार शुरू कर दिया। मेरे भैया जयपुर में नौकरी करते हैं और मैं उनके पास ही जयपुर गई हुई थी। जब मैं बस से लौट रही थी तो मेरे साथ ही एक लड़का बैठा हुआ था उसका नाम परमजीत है। हम दोनों के बीच काफी बातें हुई और मुझे वह बहुत अच्छा लगा,  वह भी मुझसे बात कर के बहुत खुश था।  जब उसने बताया कि वह हमारे घर के बगल में ही रहता है तो मैंने उसे कहा कि मैंने तुम्हें आज तक कभी भी वहां नहीं देखा, वह कहने लगा कि मैं अब दिल्ली बहुत कम ही आता हूं क्योंकि मैं अधिकतर जयपुर में ही रहत
payal aunty ke garam doodh kahani

payal aunty ke garam doodh kahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
आज जैसे ही मुझे पता चला की भैया बाहर 3 दिन के लिये बिज़नस के काम से जा रहे है तो में मन ही मन खुशी से झूम उठा और रात का इंतज़ार करने लगा. मेरी पायल आंटी बहुत ही सेक्सी ओरत है, उनका फिगर भी बहुत ही आकर्षक है, बड़े बड़े बूब्स, गोरा रंग, मदमस्त चीज़ है. अब चूँकि पायल आंटी से में पहले सेक्स कर चुका था. इसलिये हम आपस मे खुल गये थे. इस बार काफ़ी दिनो के बाद यह मौका आया था. शाम को भैया के जाने के बाद पायल आंटी किचन मे काम कर रही थी तो मेंने किचन मे जाकर पायल आंटी को पीछे से पकड़ लिया और बोला की पायल आंटी आज तो में दूध पीऊँगा, तो वो हंसते हुये बोली पी लेना अभी गर्म तो होने दो, मैने हंसते हुये कहा तो गर्म करो ना में तो पीना चाहता हूँ, तो वो बोली आज स्पेशल दूध केसर डालकर पिलाऊँगी. मैने कहा मुझे काली भैस का नही, तुम्हारा पीना है इससे स्पेशल और कहाँ होगा पायल आंटी हंस के बोली बदमाश हो गया है चल भ
पड़ोस की महिला को अपने घर पर चोदा

पड़ोस की महिला को अपने घर पर चोदा

antarvasna, Bhai bahan sex story, bhai behen sex kahani, bhatiji, big boobs, big cock, bikini, biwi ki chudai, Biwi ki garam dost, Blowjob sex kahani, blowjob sex stories, boobs, Boobs mote kardiye, bra, chudakkad, chudakkad ladki, chudas, COUSIN KI MUST CHUDAI, Cousin ki zabardasti chudai, cum, cunt, dardbhari chudai, Darzi Se Chudai Urdu Kahani, desi chudai kahani, desi chudai ki kahani, desi cock, Desi gangbang sex stories, desi hot stories, Desi incest sex stories, desi kahani, Desi voyeur sex stories, Desi wife fucked by beggars sex stories, Desi wife fucked by Muslim sex stories, dost ki biwi, Dost ki cute behen, DOST KI SIS KO CHODA, Ek anokhi family ki kahani, EK GHALTI COUSIN KE SAATH, Ek Mast Ladki Ko Patake Choda, Group Sex, group sex stories, Groupsex, hindi chudai kahani, hindi chudai ki kahani, hindi font sex kahani, kiss
desi chudai ki kahani मेरा नाम अरविंद है मैं नोएडा का रहने वाला हूं, मेरी नौकरी कोलकाता में लग गई और मुझे कोलकाता जाना पड़ा। मेरे घर वालों ने मुझे बहुत मना किया और कहने लगे कि तुम नोएडा में रहकर ही कोई काम कर लो लेकिन मैंने उन्हें कहा कि यह मेरे भविष्य का सवाल है इसलिए मुझे कोलकाता जाना ही पड़ेगा, मैं वहां कुछ काम कर लूं तो उसके बाद अपना ही खुद का कोई बिजनेस शुरू कर लूंगा क्योंकि मेरे पास अभी इतनी सेविंग भी नहीं है और ना ही हमारे घर की आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी है। हम लोग एक मिडल क्लास फैमिली से हैं इसलिए जो भी हम लोग कमाते हैं वह हम अपने खर्चे पर ही लगा देते हैं, मैंने अपने माता पिता दोनों को समझाया और वह मान गए। मेरी बहन भी अभी स्कूल की पढ़ाई कर रही है और वह अभी छोटी है इस वजह से मैंने उसे कहा कि तुम अपनी पढ़ाई पर अच्छे से ध्यान देना ताकि तुम्हारे अच्छे नंबर आ सके। जब मैं कोलकाता
पड़ोस वाली बबिता रंडी निकली

पड़ोस वाली बबिता रंडी निकली

Desi Boobs, Desi Khani, Girls Sex Nude Stories, Hindi Sex Stories, Indian XXX, Telugu sex stories
प्रेषक : राहुल … हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राहुल है, में IInd ईयर अंडरग्रेजुयेट स्टूडेंट हूँ। अब में आपको अपने बारे में बता दूँ, मेरी हाईट 6 फुट है और मेरे लंड का साईज़ 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है। अब में आपको अपनी पड़ोस वाली बबिता के बारे में बताता हूँ, बबिता को में आंटी कहता था, उसकी गांड बहुत बड़ी है, उसकी चूची भी बहुत बड़ी है, आप दोनों हाथ से नहीं पकड़ पाओंगे। उसके एक बेटी भी है, जिसका नाम कविता है और वो भी बहुत सेक्सी है। अब में सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ ये बात तब की है जब गर्मी का मौसम था और में अपने घर की छत पर पढ़ रहा था। उस टाईम में 12वीं क्लास में था, हम दोनों की छ्त एकदम सटी हुई है, में आंटी को कभी ग़लत नज़र से नहीं देखता था। उनके पति बहुत सीधे थे और वो एक टीचर थे, तो कभी-कभी में पढ़ने उनके घर चला जाता था। एक बार जब में उनके घर गया तो मैंने देखा कि वहाँ कविता नहीं है और आंटी
चूत मे भी आग लगती है

चूत मे भी आग लगती है

aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, Hindi Sex Stories
सब से पहले मैं अपने शरीर के बारे मे बता दूं. मेरा रंग सांवला और मेरी हाइट कम है. मगर मेरे मम्मे बहुत भारी भारी. पतली कमर के नीचे फिर से भारी चूतड़. इस तरह मेरा बदन तो सब को सेक्सी लगता था मगर कोई मुझ से दोस्ती नहीं करना चाहता था. जब मैं जवान हुई तब तक मेरे माँ बाप मर चुके थे. मैं अपनी एक दीदी और जीजा जी के साथ रहती थी. मेरी शादी के बारे मे कोई सोचने वाला ही नहीं था. यह सोच सोच के मैं दुखी होती और मेरी चूत गरम होती रहती. मेरी चूत तब कुच्छ ज़्यादा ही गर्मी दिखाने लगी थी. 19 साल की होते होते मैं चुदने के लिए बेताब रहती थी. यहाँ तक मेरे जीजा जी ने कई बार मेरे मम्मो पर हाथ डाल कर मुझे अपनी ओर घसीटा था. वैसे तो मैं भी सेक्स चाहती थी मगर दीदी का घर बर्बाद नहीं कर सकती थी. इस लिए जीजा जी को झटक देती थी. सेक्स के लिए मेरे पहले दो प्रयास विफल रहे. मैं ने सब से पहले गली के लड़के को इशार
kamukta kahani maa beti or raju

kamukta kahani maa beti or raju


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
उस समय मैं और मम्मी उस घर में अकेले ही रह गये थे। बड़ा घर था। पापा की असामयिक मृत्यु के कारण मम्मी को उनकी जगह रेल्वे में नौकरी मिल गई थी। मम्मी की आवाज सुरीली थी सो उन्हें मुख्य स्टेशन पर अनांउन्सर का काम मिल गया था। यूँ तो अधिकतर सभी कुछ रेकोर्डेड होता था पर कुछ सूचनायें उन्हें बोल कर भी देनी होती थी। मम्मी की उमर अभी कोई अड़तीस वर्ष की थी। अपने आप को उन्होंने बहुत संवार कर रखा था। उनका दुबला पतला बदन साड़ी में खूब जंचता था। रेलवे वाले अभी भी उन पर लाईन मारा करते थे। शायद मम्मी को उसमें मजा भी आता था। मैं भी मम्मी की तरह सुन्दर हूँ… गोरी हूँ, तीखे नयन नक्श वाली। कॉलेज में मेरे कई आशिक थे, पर मैंने कभी भी आँख उठा कर उन्हें नहीं देखा था। हाँ, वैसे मैंने एक आशिक संदीप पाल रखा था। वो मेरा सारा कार्य कर देता था। घर के काम… बाहर के काम… कॉलेज के काम और कभी कभार मम्मी के काम भी कर दिया
shadi mai saali ki chudai kahani

shadi mai saali ki chudai kahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
shadi mai saali ki chudai kahani मेरा नाम विजय है । मैं 35 साल का नौजवान हूँ। सुन्दर लड़की को देखकर मेरा लण्ड खड़ा होने लगता है और बेकाबू हो जाता है । चोदने की ईच्छा तीव्र हो जाती है। मन करता है कि उसके नर्म नर्म गालों को छू लूँ और उसके होठों को चूम लूँ। उसे अपनी बाहों में भरकर उसकी चूचियों को दबा दूँ और अपना लण्ड उसके बुर में डालकर चोद डालूँ। सर्दियों के दिन थे और शादी का माहौल था। मेरे तीसरे छोटे साले की शादी थी और हमलोग ससुराल में इके हुए। काफी लोग होने की वजह से हर कमरे में कई लोगों के सोने का इन्तजाम था। मेरी सलहज यानि पहले साले की बीवी का नाम था सरला। गेहुआँ रगं भरा हुआ बदन 34 26 34 के आकंड़ों जैसा गदराया बदन थिरकती बड़ी बड़ी चूचियां मोटी मोटी केले के तने जैसी जांघें और गज़ब की सुन्दर। इच्छा करती कि दबोच कर बस चबा ही डालूँ। इठलाती हुई जब चलती अपनी साड़ी को सामने हाथ से चूत के पा
सेक्सी भाभी का हरामी देवर

सेक्सी भाभी का हरामी देवर

Desi Boobs, Desi Khani, Girls Sex Nude Stories, Hindi Sex Stories, Indian XXX, Telugu sex stories
प्रेषक : विशाल … हैल्लो दोस्तों, मेरी कामुकता डॉट कॉम पर यह दूसरी स्टोरी है। ये बात सर्दियों की है मेरे घर के बाहर एक रेस्ट हाउस बना है, जो हमने किराए पर दिया था। सर्दीयों में अक्सर लोग रज़ाई में जल्दी सो जाते है, लेकिन जब जवानी चढ़ी हो और लंड कुंवारा हो तो नींद कहाँ आती है? रज़ाई में मन चूत खाने को करता है और लंड भी अकड़कर तनकर सौ गालियाँ देता है की भोसड़ी के एक चूत (गुझिया) का इंतज़ाम भी नहीं कर पा रहा है गांडू। गुझिया हम लोग औरत की चूत को कहते है, वाकई में दोनों टांगो के बीच में जब चड्डी को गोरी-गोरी मोटी मासल जाँघो से नीचे सरकाओ तो हल्के घुँगराले झाटों के नीचे पतली सी सोई-सोई चूत वाकई में खाने में मेवा भरी चूत, या कहूँ मलाई-मक्खन सी मीठी लगती है। तो हम उन सर्दियों में एग्जॉम के लिए पढ़ते हुए थक से गये थे और 19 साल की उम्र में मन कर रहा था थोड़ा हस्तमैथुन कर लूँ तो मन फिर से पढ़ाई में
Chudai Sex kahani Three in one Hindi Sex Stories

Chudai Sex kahani Three in one Hindi Sex Stories


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
Chudai Sex kahani Three in one मेरी उमर 35 साल की है. मेरा बदन एक दम गथीला है और मेरी लंबाई 5′ 6″ है. मेरा कॉक 7″ लंबा काफ़ी मोटा है. ये उस समय की बात है जब मैं अपने भैया के ससुराल गया था. मैं उस समय 20 साल का था. मेरे भैया की दो सालियाँ थी, जया और प्रेमा. जया 19 साल की और प्रेमा 18 साल की थी. मैं पहले भी काई बार भैया के ससुराल जा चुका था. प्रेमा बहुत ही चंचल थी लेकिन जया उस से भी बढ़ कर चंचल थी. वो मुझसे बहुत मज़ाक करती थी. जया ने काई बार मज़ाक मज़ाक में मेरे गालों को काट भी लिया था. एक दिन उन दोनो ने कहा कि जीजू चलो आज पिक्चर देखने चलते हैं. मैं कहा ठीक है. पिक्चर हाल वहाँ से बहुत दूर था. हमे मतनी शो देखना था. इसलिए हम तीनो पिक्चर देखने के लिए 2 बजे पर ही घर से निकल गये. मैने एक ऑटो लिया. हम ऑटो में बैठे तो जया और प्रेमा बहुत मुस्कुरा रही थी. मैने पूचछा की क्या बात है तुम दोनो बहुत