Tag: phele chudai

Dosto ne meri ma ko group me bohot choda Maa ki chudai kahani 2018 Antavasna Sex Kahani

Dosto ne meri ma ko group me bohot choda Maa ki chudai kahani 2018 Antavasna Sex Kahani

antarvasna, Antarvasna Sex Story, Chodan, Chut Ki Chudai, Desi Boobs, Desi Khani, desi sex story, Didi Ki Chudai, Family Sex Stories, Girls Sex Nude Stories, Hindi Font Stories, Hindi Kahani, hindi sex kahaniya, Hindi Sex Stories, Hindi Sex Story, Hindi Sexy Kahaniya, Home sex Stories, hotxxxstory, Indian Sex Stories, Indian XXX, indian xxx stories, kamacharitra, kamacharitra sex stories, kamacharitra stories, kamukta, kamukta.com, mastram stories, Telugu sex stories, True Sex Stories
Dosto ne meri ma ko group me bohot choda – Maa ki chudai kahani 2018 अब में यूँ ही उसमें से देखकर उनकी बातें सुन रहा था, मेरा दोस्त राज मेरे बर्थ-डे के बारे में बोल रहा था, जो कल था. फिर वो बोला कि अरे यार आयूष की माँ तो बहुत बड़ी माल है, कल बर्थ-डे में किसी भी तरह चोदना पड़ेगा, अब सब हाँ-हाँ बोल रहे थे. फिर राज बोला कि कल आयूष के पापा भी नहीं होंगे तो किसी भी तरह चोद देंगे, में जानता था कि यह लोग कुछ ना कुछ करने वाले थे, लेकिन में वहाँ से चला गया वरना पकड़ा जाता. फिर अगले दिन मैंने घर पर सजावट कर दी और मेरे सारे फ्रेंड्स आ गये. अब वो सब बढ़िया तैयार हो कर आए थे, सिर्फ़ इतने ही लोग थे. फिर मेरी माँ आई, उस समय मेरी माँ ने टी-शर्ट पहनी थी और नीचे सिर्फ़ लेंहगी पहनी थी. अब उनकी टाईट गांड साफ़-साफ़ दिख रही थी, उनके बड़े बूब्स उनकी ब्रा के लिए बहुत बड़े थे इसलिए वो जैसे ही झुकती तो आधे से ज़्
sasur ji se apni pyas bujhai

sasur ji se apni pyas bujhai


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
  मेरी उम्र सताईस वर्ष है, मेरा रंग सांवला जरुर है लेकिन लोगों का कहना है की मेरे नयन नक्श बहुत आकर्षक हैं, मैं इकहरे बदन की दुबली पतली और लंबी युवती हूँ, मेरी पतली कमर ने मुझे सिर से पांव तक सुन्दर बना रखा है, मेरे पति ने सुहागरात को बताया था कि जब वे शादी से पहले मुझे देखने गये थे मेरी सूरत देखे बिना मेरी कद काठी पर ही मोहित हो गये थे और जब सुरत देखी तो हाल बेहाल हो गया था, मेरी शादी बीस वर्ष कि उम्र में हुई थी, मैं छह वर्षीय एक बेटे की मां भी हूँ, उसके बाद मैं गर्भवती नहीं हुई, कीसमे कया खामी आ गई है यह जानने की हमने कभी कोशिश नहीं की और ना ही कभी विचार विमर्श किया, मै कभी अपने पति से और बच्चे के लिए कहती हूँ तो यह कह कर टाल जाते हैं कि एक लाडला है तो, वही बहुत है, और बच्चे नहीं होते तो ना हों, कया करना है,? लेकिन बच्चों के मामले में मैं तृप्त या संतुस्ट नहीं हूँ,
Kamukta Mai Nahane Jaa Rhi Hu

Kamukta Mai Nahane Jaa Rhi Hu

aunty ki chudai ki kahani, bahan ki chudai, behan ki chudai, bhabhi chudai kahani, Bhabhi Ki Chudai, chudai ki hindi kahaniya, chudai ki kahani photo ke sath, Dear sister's fuck, desi chudai, desi chudai kahani, Desi wife cheating sex stories, Desi wife sex stories, Desi wife sharing sex stories, Desi wife swapping sex stories, devar bhabhi ki chudai, DEVAR BHABHI SEX, devar bhabhi sex stories, english sex kahani, English Sex Stories, Family Sex Stories, Fuck in relationships, Girlfriend ki Chudai, girlfriend Sex stories, Hindi Sex Stories
मेरी साली रजनी के साथ था। मेरी पत्नी घर में सबसे बड़ी है। उसके बाद उसकी दो साल छोटी बहन रजनी तथा लगभग चार साल छोटा भाई है। घर में सब रजनी को प्यार के नाम से “बेबो” कहते हैं। मेरी पत्नी को पहला बेटा हुआ। जब मैं अपनी पत्नी को अपनी ससुराल से लेने गया तो मेरी साली जो बी.ए.- द्वीतीय में पढ रही थी, की गर्मियों की छुट्टियाँ चल रही थी और लगभग एक महीने की छुट्टियाँ बाकी थी। मेरी पत्नी ने घरवालों से जिद्द करके, छोटे बच्चे की वजह से बेबो को भी साथ ले लिया। हम सब गुड़गाँव वापस आ गये। मेरी पत्नी और बेबो सारा दिन छोटे बच्चे की देखभाल में लगी रहती। मैंने 10 दिन की छुट्टियाँ ले ली। दिन में मैं और बेबो जब भी खाली होते तो लूडो या कैरम खेलते। शाम को हम सब पार्क में जाते और अकसर रात का खाना बाहर खाते। मैं बेबो से पूछता कि खाने में क्या लेना है। फिर बेबो की ही पसंदीदा खाना आर्डर करता। हम सब जब भी मार्केट
Naukrani Ko Apne Lund Par Bithaya

Naukrani Ko Apne Lund Par Bithaya


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
naukarai ki chudai ki kahani साहिल बेटा उठो लक्ष्मी ने आवाज़ दी. मैं पेट के बल सोया था हाआआन्ं मैने नींद में कहाँ, सुबह सुबह मेरा लंड खड़ा था लक्ष्मी ने चादर खीची मैंने झट से तकिया लिया और अपने लंड पर रख दिया वो हासणे लगी. क्यू हसी तुम कुछ नही उसने कहा मैं नहाने चला गया मेरा लॉडा तना हुआ था मैने अभी तक चुत नही चोदि थी मेरे दोस्तों मे से कुछ अपनी काम वाली बाई को चोदा था जो कमसिन कम उमर की थी पर लक्ष्मी मेरे मा की उमर की थी मुझे बचपन मे नहलाया था. आदिल घर पे आया और बेड पर बैठ गया लक्ष्मी ने हिं दोनो को चाय और बिस्कट दी और चली गयी आदिल उसे जाते उसकी गॅंड देखने लगा, वो मेरा कॉलेज का फ्रेंड था, क्या देख रहा है, मस्त गॅंड है. साले तेरी कमसिन कंवली नही है लक्ष्मी है तेरी मा की उमर की है, पर माल है यार, कमसे कम कॉंडम नही लगा ना होगा, कुत्ता है तू, अब पचपन की है पेट से नही होगी और मेर
dost ki buwa ki chudai kahani

dost ki buwa ki chudai kahani


Warning: printf(): Too few arguments in /homepages/40/d732237198/htdocs/clickandbuilds/DesiKhani/wp-content/themes/viral/inc/template-tags.php on line 113
dost ki buwa ki chudai or gand mari आज मैं आप लोगों को अपना सच्चा अनुभव बताने जा रहा हूँ। बात आज से लगभग ५ साल पहले की है जब मैं १८ साल का था। स्कूल में शीतकालीन छुट्टियां थी, मैं अपने दोस्त श्यामू की बुआ के घर दुर्ग गया था। बुआ के यहाँ पर कुल थी लोग ही रहते हैं एक बुआ, उनकी सास और श्यामू । बड़े भैया दूसरे शहर में नौकरी करते हैं और उनकी लड़की की शादी हो चुकी है। फूफा जी का देहांत बहुत पहले हो चुका है। अब मुद्दे की बात पर आते हैं। एक रोज मैं सुबह सो कर उठा तो पाया कि श्यामू जिम जा चुके थे और दादी (बुआ की सास) अपने कमरे में थी। श्यामू और बुआ के कमरे के बीच एक खिड़की है जो कि ठीक से बंद नहीं थी। अचानक मेरी नज़र बुआ के कमरे में गई तो देखा कि बुआ बाथरूम से नहाकर आ रही हैं। उस समय बुआ ने केवल गाउन पहना था और आते ही अपना गाउन उतार दिया क्योंकि उन्हें स्कूल जाने की जल्दी थी। बुआ स्कूल टीचर है